सत्ता नहीं हावी हुई है पीएम मोदी पर

Spread the love

राजस्थान केंद्रीय विश्वविद्यालय में परिचर्चा आयोजित


जयपुर.
देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी सत्ता के समुद्र में एक कंकड के समान हैं। जैसे कंकड पानी में तो रहता है लेकिन पानी कभी उसके अंदर नहीं जाता। उसी प्रकार प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए भी सत्ता उन पर कभी हावी नहीं हुई। यह बात राजस्थान केन्द्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो आनंद भालेराव ने हाल ही में विमोचित हुई मोदी की 20 साल की यात्रा पर लिखी गई पुस्तक मोदी@20 ड्रीम्स मीट डिलीवरी पर विश्वविद्यालय में आयोजित परिचर्चा में कही।
उन्होंने कहा कि मोदी ऐसे प्रधानमंत्री है जिनके लिए सत्ता देश की जनता की सेवा का एक मार्ग है। सत्ता के माध्यम से सामान्य जनता की स्थिति में सुधार ला सकते हैं। सत्ता को वे एक साधन मानकर देश की सेवा करते हैं। प्रो. भालेराव ने श्रीकृष्ण का उदाहरण देते हुए कहा कि कि जीवन में आप क्या करते हैं वो जरूरी नहीं बल्कि आपकी कृति के पीछे उद्देश्य क्या हैं वो महत्वपूर्ण है। उसी प्रकार मोदी भी सोचते है कि सत्ता जनता की सेवा के लिए हैं और यही कारण हैं कि वे स्वयं को प्रधानमंत्री की जगह प्रधान सेवक कहते है। मोदी ऐसे नेता है जो स्वयं के द्वारा जनता के लिए किए गए कार्यों का श्रेय हमेशा जनता को ही देते हैं। इस अवसर पर कुलपति प्रो. आनंद भालेराव ने अतिथियों का अभिनंदन भी किया।
परिचर्चा की अध्यक्षता करते हुए राज्य के भूतपूर्व शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी जी ने कहा कि वे एक मात्र ऐसे प्रधानमंत्री है जिन्होंने चुनौतियों को अवसर में बदला और जीवन को जानने, पढऩे और समझने का अवसर प्रदान किया। विभिन्न मुद्दों पर लोग बात तो खूब करते है पर मोदी जी एक ऐसे प्रधान सेवक हैं जिन्होंने जो सोचा उसे करके भी दिखाया और जनता के समक्ष एक उदाहरण प्रस्तुत किया।
इस चर्चा में अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय भोपाल तथा महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय अजमेर के भूतपूर्व कुलपति प्रो एम एल छीपा ने कहा कि पीएम मोदी के पास विचारों की कोई कमी नहीं, उनमें जुनून पैदा करने की क्षमताएं संवेदनशीलता और भावुकता हैं। इस अवसर पर अर्थशास्त्री डा.ॅ सतीश बत्रा ने भी इस अवसर पर मोदी जी की किताब से संबंधित अपने विचार सबसे साझा किए ।
परिचर्चा के अंत में प्रश्नोत्तर सत्र आयोजित किया गया जिसमें विश्वविद्यालय के शिक्षकों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब देकर उनकी जिज्ञासा को शांत करने का प्रयास किया गया। कार्यक्रम के अंत में विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलसचिव प्रो. डी सी शर्मा ने धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. हेमलता मंगलनी व जनसम्पर्क अधिकारी अनुराधा मित्तल ने किया।
इस पुस्तक का विमोचन 11 मई 2022 को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में उपराष्ट्रपति एमण् वेंकैया नायडू ने किया था। यह पुस्तक रूपा प्रकाशन द्वारा प्रकाशित की गई है । यह गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और सुधा मूर्ति सहित अन्य बाईस गणमान्य व्यक्तियों द्वारा लिखित इक्कीस अध्यायों का संग्रह है। इसमे तीन बार गुजरात के मुख्यमंत्री और बाद दो बार में भारत के प्रधान मंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी की बीस साल की राजनीतिक यात्रा के बारे में है। उन्होंने राज्य स्तर के साथ साथ राष्ट्रीय स्तर पर भी हमारे देश की सेवा की है। यह पुस्तक अंतर्दृष्टिपूर्ण है तथा इसमें देश की प्रगति के बारे में बहुत ही संक्षिप्त विवरण मौजूद है और इसमें हमारे देश के लोगों के लिए अपना जीवन समर्पित करने वाले व्यक्तियों की यात्रा शामिल है।

About newsray24

Check Also

लायंस क्लब के शिविर में 280 रोगियों की नेत्र जांच

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. लायन्स क्लब किशनगढ़ क्लासिक के तत्वावधान में जिला अंधता निवारण …

One comment

  1. I was pretty pleased to discover this great site. I want to to thank you for ones time due to this fantastic read!! I definitely appreciated every part of it and I have you book marked to look at new stuff on your web site.

Leave a Reply

Your email address will not be published.