पायलट से मिले युवा कार्यकर्ता

Spread the love

मदनगंज-किशनगढ़.
राजस्थान के लोकप्रिय नेता सचिन पायलट के निवास स्थान जाकर मुलाकात की एवं 7 सितम्बर 2021 को उनके 44 वें जन्मदिन की तैयारियों को लेकर चर्चा की। कार्यक्रम का पोस्टर विमोचन कराया। ग्राम टोंकड़ा निवासी एडवोकेट राजेश गुर्जर ने बताया कि पायलट के जन्मदिन के अवसर पर किशनगढ़ विधानसभा में वृक्षारोपण का कार्यक्रम किया जाएगा।

डंपरों में डीजल के बदले एलएनजी का उपयोग करने वाली पायलट परियोजना की शुरुआत

जयपुर
अपने कार्बन फुटप्रिन्ट में कमी लाने के लिए एक बड़े कदम के रूप में राष्ट्रीय खनन कंपनी कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) कोयला मंत्रालय ने अपने डंपरों में तरलीकृत प्राकृतिक गैस (एलएनजी) किट को रेट्रोफिटिंग करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। खदानों में कोयले का परिवहन करने में लगे हुए बड़े ट्रकों में यह इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि दुनिया की सबसे बड़ी कोयला खनन कंपनी में प्रतिवर्ष 4 लाख किलोलीटर से ज्यादा डीजल का उपयोग होता है और इसकी लागत सालाना 3500 करोड़ रुपये से ज्यादा होती है।
कंपनी ने गेल इंडिया लिमिटेड और बीईएमएल लिमिटेड के साथ मिलकर अपनी सहायक कंपनी महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड एमसीएल में संचालित दो 100 टन डंपरों में एलएनजी किट कीरेट्रोफिटिंग करने के लिए एक पायलट परियोजना की शुरुआत की है। सीआईएल ने इस पायलट परियोजना को पूरा करने के लिए गेल और बीईएमएल के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया हैं। एक बार एलएनजी किट की सफलतापूर्वक रेट्रोफिटिंग और जांच हो जाने के बाद ये डंपर दोहरी ईंधन प्रणाली पर चल सकेंगे यानी कि एलएनजी और डीजल दोनों पर और एलएनजी का उपयोग करते हुए उनका संचालन बहुत ही सस्ता और विशुद्ध हो जाएगा।
सीआईएल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा यह एक गेम चेंजर साबित होगा। कंपनी के पास अपनी ओपनकास्ट कोयला खदानों में 2500 से ज्यादा डंपर काम करते हैं। कंपनी द्वारा खपत किए जाने वाले कुल डीजल का लगभग 65 से लेकर 75 प्रतिशत तक इन डंपर बेड़े पर लग जाता है। एलएनजीके माध्यम से डीजल के उपयोग में लगभग 30 से 40 प्रतिशत तक कमी आएगी और ईंधन की लागत में लगभग 15 प्रतिशत की कमी आएगी। इस कदम से कार्बन उत्सर्जन में बहुत हद तक कमी आएगी और अगर डंपरों सहित सभी मौजूदा हैवी अर्थ मूविंग मशीन एचईएमएम को एलएनजी किट के साथ रेट्रोफिटिंग कर दिया जाए तो सालाना लगभग 500 करोड़ रुपये की बचत होगी। इसके अतिरिक्त डीजल चोरी और मिलावट से छुटकारा पाना इसके अन्य फायदे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.