निर्यात पोर्टल से मिलेगा काफी लाभ

Spread the love

पीएम मोदी ने किया नए वाणिज्य भवन का उद्घाटन और पोर्टल का शुभारंभ


नई दिल्ली.
पीएम मोदी ने दिल्ली में वाणिज्य भवन का उद्घाटन किया और निर्यात पोर्टल का शुभारंभ किया। इस दौरान पीएम मोदी ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि नए भारत में नागरिक.केंद्रित शासन की यात्रा की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया गया हैए जिस पर देश पिछले 8 वर्षों से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि देश को एक नए और आधुनिक वाणिज्यिक भवन के साथ साथ एक निर्यात पोर्टल एक भौतिक और अन्य डिजिटल बुनियादी ढांचे का उपहार मिला है।
बता दें कि पोर्टल निर्यात (राष्ट्रीय आयात निर्यात वार्षिक व्यापार विश्लेषण रिकॉर्ड) भारत के विदेश व्यापार से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त करने के लिए हितधारकों के लिए वन स्टॉप प्लेटफॉर्म के रूप में विकसित किया गया है।
पीएम मोदी ने कहा कि नया ष्वाणिज्य भवन और निर्यातष् पोर्टल आत्मनिर्भर भारत की आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करते हैं। इससे व्यापार और वाणिज्य के क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव आएगा और एमएसएमई क्षेत्र से जुड़े लोगों को काफी फायदा होगा।
पिछले साल ऐतिहासिक वैश्विक व्यवधान के बावजूद भारत ने 670 बिलियन डॉलर यानि 50 लाख करोड़ रुपए का कुल निर्यात किया। पिछले साल देश ने तय किया था कि हर चुनौती के बावजूद 400 बिलियन डॉलर यानि 30 लाख करोड़ रुपए के व्यापार निर्यात का पड़ाव पार करना है। लेकिन हमने इसको भी पार करते हुए 418 बिलियन डॉलर यानि 31 लाख करोड़ रुपए के निर्यात का नया रिकॉर्ड बनाया।
उन्होंने कहा कि सरकार ने 32000 से अधिक अनावश्यक नियमों को खत्म कर व्यापार को सुगम बनाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि आज सरकार का हर मंत्रालय, हर विभाग, पूरी सरकार अप्रोच के साथ एक्सपोर्ट बढ़ाने को प्राथमिकता दे रहा है। एमएसएमई मंत्रालय हो या फिर विदेश मंत्रालय कृषि हो या कॉमर्स सभी एक साझा लक्ष्य के लिए साझा प्रयास कर रहे हैं।
पीएम ने बताया कि निर्यात पोर्टल से दुनिया के 200 से अधिक देशों को निर्यात किए जाने वाले 30 से अधिक कमोडिटी समूहों से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध होगी। इसमें एक्सपोर्टर सरकार के अलग-अलग डिपार्टमेंट्स, राज्य सरकारें सभी स्टेकहोल्डर्स के लिए जरूरी रियल टाइम डेटा तक सभी की पहुंच होगी। इस पर आने वाले समय में जिलेवार निर्यात से जुड़ी जानकारी भी उपलब्ध होगी। इससे जिलों को निर्यात के महत्वपूर्ण केंद्रों के रूप में विकसित करने के प्रयासों को भी मजबूती मिलेगी। सरकार वोकल फॉर लोकल अभियान एक जिलाए एक उत्पाद योजना के जरिए जो स्थानीय उत्पादों पर बल दे रही है उसने भी निर्यात बढ़ाने में मदद की है। अब दुनिया के नए नए देशों में हमारे अनेक उत्पाद पहली बार निर्यात किए जा रहे हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि वाणिज्य भवन इस कालखंड में कॉमर्स के क्षेत्र में हमारी उपलब्धियों का भी प्रतीक हैं। आज हम वैश्विक नवाचार सूचकांक में 46वें स्थान पर है और लगातार सुधार कर रहे हैं। इंडिया गेट के पास निर्मित वाणिज्य भवन को एक स्मार्ट इमारत के रूप में डिजाइन किया गया है जिसमें ऊर्जा की बचत पर विशेष ध्यान के साथ टिकाऊ वास्तुकला के सिद्धांत शामिल हैं। यह एक एकीकृत और आधुनिक कार्यालय परिसर के रूप में काम करेगा जिसका उपयोग मंत्रालय के तहत दो विभागों यानी वाणिज्य विभाग और उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) द्वारा किया जाएगा।
गौरतलब हो कि पीएम मोदी ने 22 जून 2018 को अकबर रोड और मान सिंह रोड के चौराहे के निकट वाणिज्य भवन की आधारशिला रखी थी। सेन्ट्रल विस्टा के मानकों के अनुरूप इस भवन का क्षेत्रफल 19233.745 वर्ग मीटर है। भवन में स्मार्ट एक्सेस कन्ट्रोल, केन्द्रीकृत एयर कंडीशनिंग और वीडियो कांफे्रंसिंग जैसी आधुनिक प्रौद्योगिकी से युक्त सारी सुविधाएं हैं।

About newsray24

Check Also

हारित भवन में डांडिया आज से

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. श्री हरियाणा गौड़ ब्राह्मण पंचायत संस्था युवासंघ मदनगंज के सचिव …

Leave a Reply

Your email address will not be published.