मेष, मीन और सिंह के बनेंगे काम, कन्या वाले जातकों के शत्रु खाएंगे मात

Spread the love

जयपुर, 7 जनवरी। क्या कहते हैं शुक्रवार, 7 जनवरी को आपके भाग्य के सितारें।जानिए आज के राशिफल में। मीन कन्या और तुला राशि वालों को होगा धन लाभ, करेंगे यात्रा जानिए अन्य राशियों का हाल-

ग्रहों की स्थिति-राहु वृषभ राशि में हैं। मंगल और केतु वृश्चिक राशि में हैं। वक्री शुक्र सूर्य के साथ धनु राशि में हैं। बुध और शनि मकर राशि में हैं। चंद्रमा और गुरु गजकेशरी योग बनाकर कुंभ राशि में हैं।

राशिफल
मेष-आशातीत सफलता मिलेगी। आय में वृद्ध‍ि होगी। शुभता बनी रहेगी। स्‍वास्‍थ्‍य नरम-गरम बना रहेगा लेकिन प्रेम का पूरा-पूरा साथ होगा। संतान पक्ष से खुशहाल समाचार मिल सकता है। व्‍यापरिक दृष्टिकोण से आय से सम्‍बन्धित चीजों से बहुत अच्‍छी स्थिति बनी रहेगी। शुभ समाचार की प्राप्ति भी संभव है। पीली वस्‍तु पास रखें।

वृषभ-व्यावसायिक सफलता की ओर जा रहे हैं। पैतृक सम्‍पत्ति में इजाफा होगा। कोर्ट-कचहरी में विजय के संकेत हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम बना रहेगा। प्रेम और संतान का पूरा-पूरा साथ होगा। अच्‍छी स्थिति दिख रही है।

मिथुन-भाग्‍य साथ देगा। काम में जो अड़चन थी, वो खत्‍म हो जाएगी। सामाजिक सम्‍मान बढ़ेगा। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा, प्रेम की स्थिति मध्‍यम रहेगी। तू-तू, मैं-मैं हो सकती है या किसी बात को लेकर मन-मुटाव संभव है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से ठीक चलेंगे। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

कर्क-बहुत अच्‍छी स्थिति नहीं है, लेकिन कुछ बुराई में अच्‍छा निकल आने का संकेत है। किसी तरह की तकलीफ होगी और उस तकलीफ का जो परिणाम होगा, वो आपके पक्ष में होगा। लगेगा कि ये तकलीफ कुछ देकर गई है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम, व्‍यापार और संतान की स्थिति अच्‍छी है। पीली वस्‍तु पास रखें।

सिंह-अद्भुत समय है। जीवन शुभता से ओत-प्रोत है। संतान आपकी आज्ञा का पालन कर रही है। संतान की तरफ से खुशहाल समाचार मिल रहा है। जीवनसाथी न्‍यौच्‍छावर है आप पर। नवप्रेम का आगमन भी संभव है यदि प्रेम की तलाश है तो। कुंवारों की शादी भी तय हो सकती है। पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों लाइफ बहुत अच्‍छी दिख रही है। पीली वस्‍तु पास रखें।

कन्‍या-आप शत्रुजयी की तरह दिख रहे हैं। राह के रोड़े स्‍वयं हट जाएंगे। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। विरोधी परास्‍त होकर नतमस्‍तक होंगे। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक-ठाक है। प्रेम की स्थिति और व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सही दिशा में बढ़ेंगे। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

तुला-कुछ ऐसा निर्णय ले सकते हैं, जो जीवनपर्यन्‍त बहुत अच्‍छा फल देता रहेगा। संतान की ओर से कुछ अच्‍छी, नई और सुखद बातें आपके मन को भाएंगी। बहुत प्रसन्‍न होंगे आप। विद्यार्थियों के लिए कुछ अच्‍छा सा हो जाएगा। स्‍वास्‍थ्‍य आपका मध्‍यम है। प्रेम-व्‍यापार का अद्भुत साथ है। पीली वस्‍तु का दान करें।

वृश्चिक-घरेलू सुख बढ़-चढ़कर मिल रहा है आपको। भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी का योग बन रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम का पूरा-पूरा साथ है। प्रेम घर तक पहुंच रहा है। घर में स्‍थान मिल रहा है। व्‍यापरिक दृष्टिकोण से भी सही समय है। पीली वस्‍तु पास रखें।

धनु-स्थिति सही कही जाएगी। कुछ ऐसा काम कर देंगे आप जो व्‍यापार में चार चांद लगाएगा। आपके अंदर एक साफ्ट एनर्जी है। बड़े शुभ लोगों का साथ है इस समय। अद्भुत समय है। स्‍वास्‍थ्‍य भी ठीक है। प्रेम और संतान में थोड़ी दूरी के बाद भी अपनापन है। व्‍यापार बहुत अच्‍छा है। बजरंग बली की अराधना करें और केसर का तिलक लगाएं।

मकर-धन का आगमन होगा। कुटुम्‍बीजनों की वृद्ध‍ि होगी। आभूषण की खरीदारी हो सकती है। अपने शब्‍द कौशल से व्‍यवसायिक निखार की ओर बढ़ रहे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा, प्रेम मध्‍यम, व्‍यापार मध्‍यम है लेकिन वाणी कौशल इतना अच्‍छा है कि धन बढ़ रहा है। पीली वस्‍तु का दान करें।

कुंभ-समाज के शीर्ष के लोग आपकी तारीफ कर रहे हैं। सुकुमारता बनी हुई है। नायक-नायिका की तरह चमक रहे हैं। आकर्षण के केंद्र बने हुए हैं। जिस चीज की जरूरत है, उसकी उपलब्‍धता है। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक है। प्रेम का साथ है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से बहुत अच्‍छा है। कुल मिलाकर अच्‍छा समय है। पीली वस्‍तु का दान करें।

मीन-खर्च की अधिकता मन परेशान कर रही है, लेकिन बाद में जब सोचेंगे कि खर्च कहां हुआ तो आपको लगेगा कि ये जरूरी था। शुभ कार्यों में खर्च हुआ इसलिए चिंता का त्‍याग करें। प्रेम और संतान में दूरी है, लेकिन शुभता है। कनेक्‍शन बना हुआ है। प्रेम, व्‍यापार, संतान आगे चलकर बहुत सुखद लगेगा। अभी थोड़ी परेशानी बनी हुई है। भगवान शिव की अराधना करते रहें।

About newsray24

Check Also

आज का चौघड़िया

Spread the love जयपुर. दिनांक :-25:-सितम्बर :-2022वार :-रविवार तिथि :-15अमावस्या:-27:25पक्ष:-कृष्णपक्षमाह:-आश्विननक्षत्र:-उत्तराफाल्गुनी:-29:55योग:-शुभ:-09:04करण:-चतुष्पाद:-15:22चन्द्रमा:-सिंह:-11:22/कन्यासुर्योदय:-06:22सुर्यास्त:-18:23दिशा शुल…..पश्चिमनिवारण उपाय:-जौं का सेवनऋतु :-शरद्-ऋतुगुलीक …

Leave a Reply

Your email address will not be published.