गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से विद्यार्थियों का भविष्य उज्ज्वल- दीयाकुमारी

Spread the love

राजसमंद, मेड़ता, भीम और जैतारण में केन्द्रीय विद्यालय खोलने की मांग को फिर उठाया संसद में

राजसमन्द, 6 अप्रेल। लोकसभा में बजट सत्र के दौरान सांसद दीयाकुमारी ने राजसमंद, मेड़ता, भीम और जैतारण में केन्द्रीय विद्यालय खोलने की मांग को एक बार फिर पुरजोर तरीके से रखा।

नियम 377 के तहत आसन के माध्यम से सरकार का ध्यान आकर्षित करते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि राजसमंद में बड़ी संख्या में सैनिक परिवार और केन्द्रीय कर्मचारी निवास करते हैं और उच्च गुणवत्तापूर्व शिक्षा प्राप्ति के लिए यहां केन्द्रीय विद्यालय खोले जाने की मांग लगातार की जाती रही है। इस सम्बंध में पूर्व में भी शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर अनुरोध किया था।

सांसद दीया ने कहा कि राजसमंद, मेड़ता और भीम में केन्द्रीय विद्यालय खोलने की सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर ली गई हैं और केन्द्रीय विद्यालय संगठन के जयपुर क्षेत्रीय कार्यालय से प्रस्ताव संगठन के मुख्यालय में भिजवा दिए गए है जबकि जैतारण की प्रक्रिया अभी बाकी है। स्कूल शिक्षा में नए कीर्तिमान स्थापित करने में केन्द्रीय विद्यालय की महत्ती भूमिका है। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से विद्यार्थियों का भविष्य संवर सकता है। इसके लिए जरूरी है कि केंद्रीय विद्यालयों की स्थापना हो। पूरा राजसमन्द लोकसभा क्षेत्र लाभान्वित हो इसके लिए केंद्रीय विद्यालय खोलने की अनुमति मिलना आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *