आईआईटी कानपुर की रिसर्च : भारत में बढ़ेगा कोरोना, फरवरी में आएगा पीक

Spread the love

नई दिल्ली। भारत में जल्दी ही कोरोना की तीसरी लहर दस्तक दे सकती है। देश-दुनिया में ओमिक्रॉन वेरिएंट के कारण कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखकर यह अनुमान लगाया है आईआईटी कानपुर के रिसर्चरों ने। इनके अध्ययन के अनुसार भारत में 3 फरवरी को कोरोना के केस पीक पर होंगे। आईआईटी कानपुर के रिसर्चरों ने कोरोना की पहली दो लहरों के डेटा के आधार पर तीसरी लहर को लेकर यह पूर्वानुमान लगाया गया है।

शोधकर्ताओं के अनुसार दुनिया भर के ट्रेंड को देखते हुए भारत में दिसंबर मध्य से तीसरी लहर का अनुमान है, जो कि फरवरी के शुरुआत में पीक पर होगी। रिसर्चरों की टीम ने गॉजियन मिक्सचर मॉडल नाम के एक स्टेटिस्टिकल टूल का इस्तेमाल किया है।

तीन फरवरी को होंगे सबसे ज्यादा केस

रिसर्चरों का कहना है कि हमारी प्रारंभिक अवलोकन तिथि से 735 दिनों बाद कोरोना केस पीक पर पहुंच सकते हैं। भारत में कोरोना की प्रारंभिक अवलोकन तिथि 30 जनवरी 2020 है, जब यहां कोरोना का पहला आधिकारिक मामला सामने आया था। इसलिए 15 दिसंबर 2021 से केस फिर से बढऩा शुरू हो रहे हैं और तीसरी लहर का पीक 3 फरवरी 2022 हो सकता है। आईआईटी कानपुर के अनुसार 3 फरवरी 2022 को भारत में कोरोना के सबसे अधिक केस दर्ज किए जा सकते हैं।

About newsray24

Check Also

बदलती जीवन शैली दे रही है मौत

Spread the love दिल के दौरे पडऩे का मुख्य कारणस्वास्थ्य पर ध्यान देना हुआ जरूरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.