किसान आंदोलन के समर्थन में भारत बंद 27 को, जयपुर में शहीद स्मारक से कलक्ट्रेट तक निकाली जाएगी रैली

Spread the love

जयपुर, 26 सितंबर। जयपुर में नारायण सिंह सर्किल स्थित पिंकसिटी प्रेस क्लब में संयुक्त किसान-मजदूर-जन मोर्चा की ओर से संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया।
इस दौरान 27 सितम्बर के भारत-बंद को जयपुर जिला में सफल बनाने के लिए की गई तैयारियों के बारे में बताते हुए संयुक्त किसान-मजदूर-जन मोर्चा के नेतृत्व ने सभी व्यापारियों, व्यापारिक संगठनों और आम जनता से बंद को सफल बनाने की अपील की गई। रीट की परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों के वाहनों को बंद से छूट रहेगी। नेताओं ने कहा कि देश के अन्नदाता किसान पिछले 10 महीने से दिल्ली के चारों ओर सभी तरह की विपदाओं को झेलते हुए मोर्चा लगा कर बैठे हैं। सडक़ों पर दस महीनों से केवल अपनी पूरी तरह जायज़ मांगों को लेकर आंदोलन करते हुए अब तक 625 से अधिक किसानों ने अपनी शहादत दी है।

यह आन्दोलन सिर्फ किसानों की मांगों के लिए ही नहीं है अपितु आज यह आंदोलन उससे कहीं बहुत ज्यादा व्यापक देशहित और देश की आम जनता के हितों से सरोकार रखने वाला जनांदोलन बन चुका है। असल में यह हमारी फसलों और आने वाली नस्लों को बचाने की लड़ाई है। यह हमारे देश के संविधान, लोकतन्त्र और लोकतांत्रिक अधिकारों को बचाने का आंदोलन है।
आज भाजपा-आरएसएस की अधिनायकवादी मोदी सरकार बड़ी ही बेरहमी और बेशर्मी से हमारे संविधान, संवैधानिक संस्थाओं और आम जनता के संवैधानिक अधिकारों को सत्ता के मद में चूर हो कर पैरों तले रौंदने का प्रयास कर रही है। यह सरकार अपने आकाओं (देशी विदेशी कार्पोरेट घरानों) के इशारे पर सिर्फ और सिर्फ उनके मुनाफे बढ़ाने के लिए सारे कानून बदलने में लगी हुई है। दस महीनों के बाद आंदोलन आज एक निर्णायक मोड़ पर है।
27 सितंबर के भारत बंद के पश्चात और भी व्यापक विरोध का क्रम लगातार तब जारी रहेगा जब तक आंदोलन की सभी मांगों को पूरा नहीं किया जाता है। संयुक्त किसान मोर्चा, केन्द्रीय श्रमिक संगठनों सहित अनेक महिला, छात्र,नौजवान संगठनों ने सामूहिक रूप से भारत बंद का आह्वान किया है और इस भारत बंद में किसान, मजदूर, महिला, छात्र, युवा, सामाजिक संगठन और कार्यकर्ताओं के साथ ही रंगकर्मी, बुद्धिजीवियों के अनेक संगठनों और देश के प्रमुख विपक्षी राजनीतिक दलों ने भी बन्द का समर्थन करते हुए बंद को पूरी तरह से सफल बनाने की अपील की है। भारत बंद में जयपुर जिले के सभी व्यापारियों के संगठनों द्वारा सहयोग और समर्थन देने का भरोसा दिलाया है।

चौमूं में महिला किसान संभालेंगी मोर्चा

जयपुर शहर के अलावा जिले की सभी तहसीलों, कस्बों में भी भारत बंद को लेकर तैयारियां चल रही हैं। चौमू में भारतीय किसान यूनियन के डॉ.सी.बी.यादव और अखिल भारतीय किसान सभा के भगवान भदाला सहित अनेक किसान नेताओं के नेतृत्व में भारत बंद के लिए व्यापक तैयारियां की गई हैं। 27 सितंबर को प्रात: 8 बजे गढ़ गणेश मंदिर बस स्टैंड चौमू पर लोग एकत्रित होंगे। तथा 9 बजे से पूरे चौमू शहर में ट्रैक्टर परेड निकाली जाएगी। किसान ट्रेैक्टर परेड की पूरी बागडोर महिला किसानों के हाथ में होगी।

संवाददाता सम्मेलन में भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष राजाराम मील, अखिल भारतीय किसान सभा के संयुक्त सचिव डॉ.संजय माधव, डॉ.सी.बी.यादव, राजस्थान किसान सभा के रमेश शर्मा, राजस्थान समग्र सेवा संघ के सवाई सिंह, भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश महासचिव के.सी.घुमरिया, किसान आर्मी किसान एकता मिशन के अध्यक्ष डॉ.सौरभ राठौड़, एटक के प्रदेश महासचिव कुणाल रावत, समाजवादी किसान मोर्चा के शैलेन्द्र अवस्थी, एनएफआईडब्ल्यू से सुनिता चतुर्वेदी, किसान यूनियन के चैनाराम चौधरी आदि सहित किसान मजदूर जन आंदोलन के अगुआ नेताओं ने सम्बोधित किया।

शहीद स्मारक से शुरू होगी रैली

27 सितम्बर को प्रात: 10.00 बजे शहीद स्मारक, गवर्नमेंट हॉस्टल पर सभी किसान, मजदूर, छात्र युवा, महिला, सामाजिक संगठनों के साथी एकत्र होने के बाद 11.00 बजे रैली शुरू होगी। यह रैली एम आई रोड़, सांगानेरी गेट, बड़ी चौपड़, छोटी चौपड़, चांदपोल बाजार, संजय सर्किल, सिंधी कैंप बस स्टैंड, खासा कोठी सर्किल से होते हुए जिला कलेक्ट्रेट पर पहुंचेगी, जहां रैली का समापन किया जायेगा।
उससे पूर्व सुबह 6.00 बजे से छात्र युवाओं की टोलियां बाजारों में व्यापारियों से बाजार बंद की अपील करेंगी।

About newsray24

Check Also

लायंस क्लब के शिविर में 280 रोगियों की नेत्र जांच

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. लायन्स क्लब किशनगढ़ क्लासिक के तत्वावधान में जिला अंधता निवारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published.