लोगाें के दिलों से डर मिटाने आया हूं: राहुल गांधी

Spread the love

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का राजस्थान में प्रवेश

झालावाड़। जिले के चवली चौराहा (झालरापाटन) से राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ने राजस्थान में प्रवेश किया। राहुल गांधीा के स्वागत में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा, सचिन पायलट सहित अन्य नेता चवली चौराहे पर मौजूद रहे। वहीं राहुल को देखने सुनने और उनकी यात्रा के स्वागत में हजारों की तादाद में लोग उमड़ पड़े। मध्यप्रदेश के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने यात्रा का ध्वज राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा को सौंपा।

संघ से नफरत नहीं, लेकिन डर फैलाने की इजाजत नहीं

राहुल ने इस दौरान आयोजित जनसभा में कहा कि मैं उस डर को मिटाना चाहता हूं, जो भाजपा सरकार ने किसानों के दिल में डाला है। जो छोटे और मध्यम व्यापारियों के दिल में नोटबंदी और जीएसटी लागू करके और कोरोना में किसी की मदद नहीं करके डाला गया है। जो युवाओं के दिल में बेरोजगारी फैलाकर डर डाला है। मैं उस डर को मिटाना चाहता हूं। राहुल ने आगे कहा कि मैं भाजपा और संघ के लोगों से नफरत नहीं करता हूं, लेकिन मैं उनको इस देश में डर नहीं फैलाने दूंगा, क्योंकि यह डर का देश नहीं है।

भारत जोड़ो यात्रा से बहुत सीखने को मिल रहा

हवाई जहाज, हेलिकॉप्टर और वाहनों में यात्रा के दौरान ये चीजें नहीं दिखती हैं। हेलिकॉप्टर से दूर से दिखता है। किसानों के फटे हुए हाथों से हाथ मिलाने के बाद समझ में आता है कि किसान क्या कर रहा है। उन्होंने कहा कि मजदूरों के बच्चों को सुबह कांपते हुए देखकर समझ आती है, हिन्दुस्तान में क्या हो रहा है। हवाई जहाज से, हेलिकॉप्टर से, गाड़ियों से यह चीजें दिखती नहीं हैं। राहुल ने कहा कि हर राज्य, हर शहर, हर गांव ने यात्रा को खूब मदद की। लोगों को एक पैसा नहीं देना पड़ा। हिंदुस्तान की जनता ने यात्रा को खूब प्यार दिया।

चंद बिजनेस मैन के हाथों में जा रहा देश का धन

राहुल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सिर्फ तीन-चार उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाया जा रहा है जो देशहित में नहीं है। उन्होंने कहा कि पूरा देश बेरोजगारी में डूबा है। महंगाई बढ़ती जा रही है और पूरा का पूरा फायदा और पूरा का पूरा धन तीन-चार उद्योगपतियों के हाथों में जा रहा है।

आजादी के बाद सबसे कठिन यात्रा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आजादी के बाद राहुल गांधी ने सबसे बड़ी कठिन यात्रा शुरू की है। राहुल गांधी जहां-जहां जा रहे है, कारवां बढ़ता ही जा रहा है। हर गांव, हर घर तक राहुल की यात्रा का मैसेज पहुंच रहा है। महंगाई सबको मार रही है और बेरोजगारी बढ़ रही है। ऐसे में राहुल रोजाना 25 किलोमीटर पैदल चलकर इन मुद्दों को जनता के सामने उठाने में लगे हैं। देश में पनप रहे डर को खत्म करने के लिए यह यात्रा निकाली जा रही है। गहलोत ने कहा कि मैं अपनी और पूरे प्रदेशवासियों की ओर से राजस्थान की धरती पर राहुल गांधी का स्वागत करता हूं।

कमलनाथ की चुनौती स्वीकारी गहलोत ने

अशोक गहलोत कहा कि कमलनाथ कह रहे थे कि राजस्थान में गहलोत सरकार है, लेकिन मध्य प्रदेश जितना प्यार यात्रा को नहीं दे पाएंगे। यात्रा मध्यप्रदेश का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाएगी। उन्होंने सभी राजस्थानवासियों को ये चैलेंज दिया है। लेकिन हम बता देंगे कि राजस्थान के मुकाबले मध्यप्रदेश कुछ भी नहीं था। कमलनाथ जी हम आपकी चुनौती स्वीकार करते हैं। आप देखेंगे कि राजस्थान में पूरे 18 दिन तक प्रदेशवासी पलक पावड़े बिछाकर राहुल गांधी और यात्रा का स्वागत करेंगे।

गहलोत-पायलट ने किया राहुल के साथ डांस

राहुल की भारत जोड़ो यात्रा के प्रवेश के साथ ही राजस्थान कांग्रेस नेताओं का अजब दृश्य दिखाई दिया। मुख्यमंत्री गहलोत, सचिन पायलट, पीसीसी अध्यक्ष डोटासरा के साथ राहुल ने मंच पर लोक कलाकारों के आदिवासी लोकगीत पर एक साथ एक घेरे में नृत्य किया। इस अवसर पर यात्रा के स्वागत में प्रसिद्ध राजस्थान लोक कलाकार मामे खां समेत कलाकारों ने ‘पधारो म्हारे देस’ सहित अन्य प्रस्तुतियां दी ।

सोमवार को काली तलाई से यात्रा की शुरुआत

राहुल की यात्रा सोमवार सुबह छह बजे झालावाड़ के काली तलाई से रवाना होगी। यात्रा 10 बजे बाली बोरड़ा चौराहा पहुंचेगी। इसके बाद 3:30 बजे नाहरडील और शाम 6:30 बजे झालरापाटन के चंद्रभागा चौराहा पहुंचेगी। यहां पर राहुल गांधी नुक्कड़ सभा को संबोधित करेंगे। अगले करीब 17 से 20 दिन तक भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में रहेगी। राहुल गांधी राजस्थान में करीब 521 किलोमीटर का सफर तय करेंगे। इस दौरान दो दिन का ब्रेक होगा, जिसमें राहुल गांधी के चुनाव प्रचार के लिए गुजरात जाने का कार्यक्रम प्रस्तावित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.