जयपुर में करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष की हत्या, हमलावरों ने घर में घुसकर मारी गोगामेड़ी को गोली, एक हमलावर की भी मौत

Spread the love

जयपुर। जयपुर में अज्ञात मंगलवार को हमलावरों ने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी पर गोलियां चला दीं। पुलिस के अनुसार गोगामेड़ी की बाद में अस्पताल में मौत हो गई।
राज्यपाल कलराज मिश्र ने पुलिस से अपराधियों के खिलाफ कड़ी और प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। अधिकारियों के अनुसार घटना के बाद राज्य भर में पुलिस को सतर्क कर दिया गया है।
जयपुर के पुलिस आयुक्त बीजू जॉर्ज जोसेफ ने कहा कि मंगलवार दोपहर को श्याम नगर इलाके में हुई इस गोलीबारी में एक हमलावर की भी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि गोगामेड़ी के घर के बाहर से एक व्यक्ति की स्कूटी छीनकर फरार हुए दोनों आरोपियों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार करने के प्रयास किये जा रहे हैं।
उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि तीन लोग गोगामेड़ी के आवास पर गए और उन्होंने उनके सुरक्षाकर्मियों से कहा कि वे गोगामेड़ी से मिलना चाहते हैं। सुरक्षाकर्मी उन्हें अंदर ले गए, जहां उन्होंने गोगामेड़ी से दस मिनट तक बातचीत की। इसके बाद, उन्होंने उन पर गोलियां चला दीं। जोसेफ ने कहा कि गोगामेड़ी के सुरक्षाकर्मियों को भी गोली लगी, जबकि तीन आरोपियों में से एक नवीन सिंह शेखावत की भी गोलीबारी में मौत हो गई। उनके मुताबिक घटना के बाद दो हमलावर घर से बाहर निकले और एक व्यक्ति से स्कूटी छीनकर फरार हो गए।
पुलिस आयुक्त ने कहा कि नवीन शेखावत ही उस गाड़ी को चला रहा था, जिससे तीनों श्याम नगर में गोगामेड़ी के आवास पहुंचे थे। उनका कहना है कि प्राथमिक जानकारी के अनुसार नवीन शेखावत एक दुकान चलाता था। जोसफ ने बताया कि घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पहले भी दी गई थी धमकी

उन्होंने बताया कि पूरी घटना सीसीटीवी में रिकाॅर्ड हो गई। हम घटना में संलिप्त दो आरोपियों की पहचान करने और उनका पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। हत्या की साजिश रचने वाले भी पकड़े जायेंगे। इस घटना की खबर फैलते ही गोगामेड़ी के समर्थक और राजपूत समाज के लोग उनके घर और अस्पताल पहुंचने लगे। गोगामेड़ी के एक रिश्तेदार ने अस्पताल के बाहर संवाददाताओं से कहा कि उन्हें पहले भी धमकी दी गई थी और उन्हें हमले की आशंका थी। उन्होंने बताया कि धमकी के बारे में पुलिस को भी जानकारी दी गयी।

आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग

रिश्तेदार ने कहा कि हमलावर उनके घर गए और सुरक्षाकर्मी से कहा कि वे सुखदेव गोगामेड़ी से मिलना चाहते हैं। वह उन्हें ड्राइंग रूम में ले गये, जहां उन्होंने गोलियां चलाईं। उन्होंने कहा ‘गोगामेड़ी को काफी समय से धमकियां मिल रही थीं। पुलिस को आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करना चाहिए।” करणी सेना के संस्थापक और संरक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी के साथ मतभेदों के बाद गोगामेड़ी 2015 में श्री राजपूत करणी सेना से अलग हो गए और उन्होंने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना का गठन किया।

गैंगस्टर रोहित गोदारा ने ली हत्या की जिम्मेदारी

इधर, घटना के बाद गैंगस्टर रोहित गोदारा के नाम से बने फेसबुक पेज पर हत्या की जिम्मेदारी ली गई है। पोस्ट में लिखा- राम राम, सभी भाइयों को मैं रोहित गोदारा कपूरीसर, गोल्डी बरार। भाइयों आज यह जो सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है। इसकी संपूर्ण जिम्मेदारी हम लेते हैं। यह हत्या हमने करवाई है। भाइयों मैं अपको बताना चाहता हूं कि ये हमारे दुश्मनों से मिलकर उनका सहयोग करता था। उनको मजबूत करने का काम करता था। रही बात दुश्मनों की तो वह अपने घर की चौखट पर अपनी अर्थी तैयार रखें। जल्दी उनसे भी मुलाकात होगी।

हत्या के विरोध में प्रदर्शन

इधर, गोगामेड़ी की हत्या के बाद कई जिलों में प्रदर्शन शुरू हो गए। जयपुर में लोग हॉस्पिटल के बाहर धरने पर बैठ गए। चूरू के सादुलपुर में गांव चैनपुरा बड़ा में जाम लगा दिया।रोडवेज बस पर पथराव कर दिया। पथराव के बाद सवारियां बस से उतरकर भाग गई। राजसमंद के कुंभलगढ़ में बाजार बंद करा दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.