अवश्य तपना पड़ता है सफलता पाने के लिए

Spread the love

पर्यूषण पर्व के सातवें दिन उत्तम तप दिवस मनाया


मदनगंज-किशनगढ़.
पर्यूषण पर्व के सातवें दिन उत्तम तप दिवस पर शास्त्र वाचन करते हुए पंचायत अध्यक्ष विनोद पाटनी ने कहा कि तप एक धर्म है आज समूचे विश्व में जैन धर्म को मात्र जैन साधना उसके तप-तपस्या के माध्यम से जाना जाता है। प्रात: जनमानस भी आज जैन संतों के तप से परिचित है। कर्म क्षय के लिए जो तप किया जाता है वह तप है। संसार में सभी को किसी भी सफलता को पाने के लिए तपना अवश्य पड़ता है। पाटनी ने कहा कि व्यापारी दुकान में घंटों तक तप करता है, शिक्षक स्कूल में तप करता है, वकील कचहरी में तप करता है। ड्राइवर गाड़ी में तप करता है। उद्योगपति फैक्ट्री में तप करता है। महिलाएं रसोई में तप करती है ये सभी अपने-अपने उद्देश्य पूर्ति के लिए तप करते है। यह सम्यक तप नहीं कृतप कहलाता है। ये तप भौतिक सम्पदा तो दे सकते है पर आत्मिक सम्पदा नहीं दे सकते। पाटनी ने कहा कि बिना तपस्या के मुक्ति को नहीं पाया जा सकता है। तप दोषों की निवृत्ति कराता है। आत्म शुद्धि का मार्ग है तप।

भगवान का किया गुणगान

श्री मुनिसुव्रतनाथ दिगंबर जैन पंचायत के तत्वाधान में आयोजित रूपनगढ़ रोड स्थित श्री मुनिसुव्रतनाथ मंदिर में पयुर्षण पर्व के सातवें दिन उत्तम तप धर्मदिवस के दिन पर प्रात: श्रीजी के पंचामृत अभिषेक-शांतिधारा व पूजन की गई। कार्यकारिणी सदस्य मुकेश पाटनी ने बताया कि शांतिधारा करने का सौभाग्य विमल कुमार रौनक कुमार सौरभ कुमार बाकलीवाल परिवार रहलाना वाले को प्राप्त हुआ। श्रावक भक्तों द्वारा पंच परमेष्ठी पूजन, वीस तीर्थंकर पूजन, पंच मेरु पूजन, नवदेवता पूजन, नंदीश्वर दीप पूजन, सोलह कारण पूजन, दसलक्षण पूजन, भगवान शांतिनाथ पूजन की। भक्तों द्वारा सामायिक प्रतिक्रमण कर यथाशक्ति अनुसार व्रत एवं उपवास किए जा रहे हैं।
कार्यकारिणी सदस्य अनिल पाटनी ने बताया कि सायंकालीन मूलनायक मुनिसुव्रतनाथ भगवान महावीर भगवान पाŸवनाथ भगवान आचार्य वर्धमान सागर महाराज पद्मावती माता एवं क्षेत्रपाल बाबा की वीर संगीत मंडल की मधुर लहरियों पर नाचते गाते भक्ति भाव से संगीतमय आरती की गई। आरती के पश्चात पंचायत अध्यक्ष द्वारा शास्त्र वाचन किया गया तत्पश्चात धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के तहत मंगलवार को उत्तम तप धर्म दिवस के दिन श्री भारतवर्षीय दिगंबर जैन महिला महासभा द्वारा धार्मिक भक्ति नृत्य प्रतियोगिता आयोजित की गई।
इस दौरान महेंद्र बाकलीवाल, सुनील गंगवाल, पदम अजमेरा, सुभाष सेठी, विक्की गोधा, कमल गंगवाल, प्रेमचंद सेठी, विकास पाटनी, आशीष सेठी, मनोज कासलीवाल, धर्मेंद्र पाटनी, अमित वेद सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।
धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के तहत बुधवार को उत्तम त्याग धर्म दिवस के दिन श्री मुनिसुव्रतनाथ नवयुवक मंडल द्वारा जैन धार्मिक म्यूजिकल हाउजी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।
पर्युषण पर्व के तहत श्री मुनिसुव्रतनाथ दिगम्बर नवयुवक मंडल की ओर से को जैन कुल की बेटी नृत्य नाटिका कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई। अध्यक्ष संजय पांड्या ने बताया कि मुनिसुव्रतनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आरडी मित्तल हॉस्पिटल से डॉ. महेश मित्तल व सुनीता मित्तल रहे इनका स्वागत अभिनंदन मंडल के सदस्यों द्वारा तिलक लगाकर माला पहनाकर शाल ओढ़ाकर किया गया। साथ ही बताया कि नृत्य नाटिका की स्क्रिप्ट मोना पांडया ने लिखी। मां बाप का रोल सिंपल बाकलीवाल एवं रंजना पाटनी ने किया वहीं बेटी का रोल एनी बोहरा ने किया। इनके अलावा नाटिका में विभा पाटौदी, नेहा पांड्या, नेहा पाटौदी, सोनाली गोधा आदि महिलाओं का विशेष सहयोग रहा। कार्यक्रम के अंत में सभी को अच्छी शिक्षा संदेश देने के लिए पुरस्कृत किया गया।

About newsray24

Check Also

आठ नवंबर को होगा चंद्रग्रहण

Spread the love ।।श्रीहरिः ।।।। श्रीमते रामानुजाय नमः ।। 🌕खग्रास 🌑/खण्डग्रास 🌒चन्द्र ग्रहण==================मदनगंज किशनगढ़. स्वस्ति …

Leave a Reply

Your email address will not be published.