देवनारायण मंदिर खुलवाने के लिए मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

Spread the love

जमवारामगढ़, 21 मार्च (विकास शर्मा)। विधानसभा क्षेत्र जमवारामगढ़ में सोमवार को भीलवाड़ा जिले के मांडल कस्बे में 45 वर्ष से बंद भगवान देवनारायण मंदिर को दोबारा खोलने और पूजा-अर्चना शुरू कराने के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम उपखंड अधिकारी जमवारामगढ़ विश्वामित्र मीना को ज्ञापन सौंपा गया।

इस दौरान महेंद्र खटाना ने कहा कि भगवान देवनारायण मंदिर पिछले 45 वर्ष से बंद होने के कारण गुर्जर समाज सहित विभिन्न वर्गों एवं संगठन के लोगों की धार्मिक भावनाओं को गहरा आघात पहुंचा है। इस कारण से लोगों में आक्रोश व्याप्त है। करीब 45 वर्ष से बंद इस मंदिर को खोले जाने, पूजा-अर्चना शुरू करवाने के लिए गुर्जर समाज सहित विभिन्न वर्गों के लोगों द्वारा प्रशासन को कई बार अवगत करा दिया गया, लेकिन अभी तक इसका समाधान नहीं निकला है। लोग जब मुसीबत में होते हैं तो वे भगवान के मंदिर में अपनी आस्था से आशीर्वाद लेने जाते है। इसलिए वह अपनी फरियाद लेकर भगवान के मंदिर में जाने के लिए मंदिर द्वार खुलवाना चाहते हैं।

मुकदमें वापस लिए जाएं

साथ ही इस दौरान कहा गया कि मंदिर को खोले जाने को लेकर किए गए आंदोलनों और प्रदर्शनों में जिन युवाओं को गिरफ्तार किया गया है, उनके खिलाफ दर्ज किए गए मुकदमें जल्द वापस लिए जाएं। ज्ञापन के दौरान राधेश्याम चौमुखा, राकेश चौधरी, गोपाल फागणा, महेंद्र खटाना, विनोद छैपट, महेंद्र मूण्डला सहित काफी संख्या में जमवारामगढ़ क्षेत्र के लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.