Corona के सबसे अधिक केस केरल में तो सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट राजस्थान के चित्तौड़ जिले में

Spread the love

जयपुर। देश में एक बार फिर कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। देश में कोरोना के एक्टिव केस 50 हजार का आंकड़ा पार कर चुके हैं। शनिवार को बीते 24 घंटे में पूरे देश में कोरोना के 10,753 नए केस दर्ज किए गए हैं। वहीं 21 लोगों की मौत हाे गई है। इससे पहले 4 सितंबर 2022 को 50 हजार से ज्यादा एक्टिव केस दर्ज किए गए थे। अप्रेल 2023 के शुरुआती 14 दिन यानी 1 अप्रेल से 14 अप्रेल तक देश में 89 हजार लोग संक्रमित हो चुके हैं। एक दिन पहले यानी गुरुवार को संक्रमण के 11 हजार 109 मामले सामने आए थे, जबकि 29 लोगों की मौत हुई थी। इसके अलावा एक्टिव केस 49 हजार 622 थे। स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक देश में डेली पॉजीटिविटी रेट 6.78% और वीकली रेट 4.49% पहुंच गई है। इसके अलावा रिकवरी रेट 98.69% है। काेरोना के सबसे ज्यादा केसों के मामले में टॉप राज्यों में केरल पहले स्थान पर है। वहीं दिल्ली दूसरे, महाराष्ट्र तीसरे, हरियाणा चौथे व उत्तर प्रदेश पांचवें स्थान पर है। शनिवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार देश में कोरोना संक्रमित केसों की संख्या 53,720 तक पहुंच गई है। वहीं शनिवार को जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 24 घंटों में देशभर में 21 लोगों की कोरोना से मौत हो गई। वहीं दिल्ली में सर्वाधिक 6 लोगों की मौत हुई है। महाराष्ट्र में 4 व राजस्थान में लगातार दूसरे दिन 3 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

लगातार बरत रहे लापरवाही

देशे में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं, लेकिन फिर भी देश में लोग बेपरवाह हैं। काेरोना गाइड लाइंस की पालना नहीं की जा रही है। भीड़भाड़ वाले स्थानों में भी लोग बिना मास्क के निकल रहे हैं। अगर ऐसे ही चलता रहा तो देश में कोरोना केसों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो सकती है। वहीं चिकित्सा विशेषज्ञ पहले ही चेता चुके हैं कि अभी देश में कोरोना के केसों में बढ़ोतरी होगी

सबसे ज्यादा नए केस केरल में

देश में शनिवार को बीते 24 घंटे में 10,753 नए कोरोना मरीज मिले। इनमें से 7,229 केस सिर्फ 5 राज्यों में मिले हैं। ये आंकड़ा देशभर में मिले कुल केसांे का 67% है। सबसे अधिक केस केरल में मिले हैं। यहां 3065 नए केस मिले हैं, इनमें से 1892 लोग ठीक हुए हैं, जबकि 6 लोगों की शनिवार को बीते 24 घंटों में मौत हो गई। यहां वर्तमान में 18 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं।

कोरोना के मरीजों के मामले में दूसरे नंबर पर दिल्ली

काेरोना के नए केसों के मामले में देशभर में दिल्ली दूसरे नंबर है। यहां शुक्रवार को 1,420 नए केस आए और 6 कोरोना संक्रमित लोगों की मौत हो गई। यहां 1,065 लोग इस बीमारी से ठीक हुए हैं। यहां एक्टिव केस 4,311 हो गए हैं। वहीं तीसरे नंबर महाराष्ट्र है। यहां शुक्रवार को काेरोना के 1,152 नए केस आए। वहीं 4 व्यक्तियों की मौत हो गई। यहां पॉजिटिविटी रेट 7.27% है और 5,928 एक्टिव केस हैं।

हरियाणा में शुक्रवार को 835 नए केस सामने आए और 436 लोग ठीक हुए। फिलहाल राज्य में 3,233 एक्टिव केस हैं। यहां पॉजिटिविटी रेट 8.37% पर पहुंच गई है। वहीं उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को 757 नए केस मिले और 271 लोग ठीक हुए। फिलहाल राज्य में 2579 एक्टिव केस हैं। यहां पॉजिटिविटी रेट 1.56% है।

राजस्थान: 10 दिन में 23 जिले रेड जोन में

राजस्थान में अप्रेल में कोरोना के केसों की रफ्तार बढ़ गई है। मात्र 10 दिन में राजस्थान के 23 जिले रेड जोन में पहुंच चुके हैं। 1 अप्रेल को राजस्थान का एक भी जिला रेड जोन में नहीं था। राष्ट्रीय स्तर पर तैयार सभी राज्यों की 12 अप्रेल तक की साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट ने विशेषज्ञों को हैरान कर दिया है। सात दिन की संयुक्त स्टडी में सामने आया है कि राजस्थान के 10 जिलों में पॉजिटिविटी रेट 10 प्रतिशत से भी ऊपर पहुंच गई है।

राजस्थान में चित्तौड़गढ़ 27.47 प्रतिशत की पॉजिटिवटी रेट के साथ सबसे ज्यादा संक्रमित जिला हो गया है। जयपुर की 14.42 और जोधपुर की पॉजिटिवटी रेट 9.92 प्रतिशत पर पहुंच गई है। गुरुवार को जयपुर में 2, नागौर में 1 मौत हुई। शुक्रवार को चूरू, हनुमानगढ़ और जयपुर में एक-एक मौत हुई। सोमवार को झालावाड़ में दो, बीकानेर में 1 मौत हुई है।

बड़े राज्यों में सबसे अधिक पॉजिटिविटी रेट राजस्थान की

बड़े राज्यों में देश में सबसे अधिक पॉजिटिविटी रेट राजस्थान के चित्तौड़गढ़ की 27.47 प्रतिशत है। इसके बाद दिल्ली के विभिन्न इलाकों की 26.52 प्रतिशत हैं। वहीं महाराष्ट्र, केरल, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश आदि सभी में जिलों की पॉजिटिविटी रेट इनसे कम हैं।

इन जिलों में 10% से अधिक पॉजिटिविटी रेट

चित्तौड़गढ़ – 27.47
डूंगरपुर – 21.43
जयपुर – 14.42
अजमेर – 14.40
उदयपुर – 13.86
धौलपुर – 13.64
राजसमंद – 13.00
बीकानेर – 11.17
चूरू – 10.71
जैसलमेर – 10.13

इन जिलों में 5% से अधिक पॉजिटिविटी रेट

जोधपुर – 9.92
बारां – 8.00
भरतपुर – 7.89
सीकर – 7.76
झालावाड़ – 7.36
श्रीगंगानगर – 6.20
बांसवाड़ा – 5.88
सिरोही – 5.81
भीलवाड़ा – 5.34
बूंदी – 5.19
नागौर – 5.08
प्रतापगढ़ – 5.08
पाली – 5.05

अब राज्यपाल भी कोरोना पॉजिटिव

प्रदेश के राज्यपाल कलराज मिश्र की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे व कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गाेविंद सिंह डोटासरा कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। वहीं प्रदेशभर में 14 अप्रेल को कोरोना के 397 नए मामले दर्ज हुए। वहीं तीन मरीजों की कोरोना से मौत हुई है। शुक्रवार को प्रदेश में सबसे अधिक मरीज राजधानी जयपुर में 85 मिले। इसके अलावा जोधपुर में 44, झालावाड़ में 42, बीकानेर में 32, उदयपुर में 31, सीकर में 30, अजमेर में 29, नागौर में 22, प्रतापगढ़, अलवर में 13-13, चित्तौड़गढ़ में 11, श्रीगंगानगर में 9, सिरोही में 8, कोटा में 7, डूंगरपुर और जैसलमेर में 5-5, सवाई माधोपुर में 4, भीलवाड़ा और बूंदी में 3-3,बारां में कोरोना का एक मरीज मिला है।
प्रदेश में बढ़े मामलो के बीच शुक्रवार को कोरोना से 104 मरीज ठीक हुए। वहीं एक्टिव मरीजों की बात करें तो इनकी संख्या बढ़कर 1764 हो गई है। वहीं शुक्रवार को प्रदेश में कोरोना के 7908 कोरोना सैंपल लिए गए हैं।

अधिकतर मामले सब वैरिएंट XBB 1.16 के

प्रदेश में अप्रेल माह में ओमिक्रोन के सब वैरिएंट XBB 1.16 के मरीज तेजी से बढ़े हैं। जहां प्रदेश में अप्रेल माह के पहले दिन कोरोना के 21 मरीज मिले थे इस दौरान प्रदेश भर में 197 एक्टिव मरीज थे। वहीं 15 दिनों में कोरोना के 2105 नए मरीज मिले हैं। वहीं 15 मरीजों की कोरोना से जान गई है।

हरियाणा में कोरोना वैक्सीन खत्म

हरियाणा में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच वैक्सीन का संकट खड़ा हो गया है। फरवरी 2023 में राज्य को मिली वैक्सीन की आखिरी खेप 31 मार्च को खत्म हो गई है। जबकि प्रदेश में 24 घंटे के दौरान अब तक सबसे अधिक 835 नए केस सामने आए हैं। संक्रमण दर 8.37 फीसदी पहुंच गई है। हरियाणा में कुल सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 3210 पहुंच गई है।
हरियाणा में अप्रेल में ही संक्रमण दर अचानक से बढ़ी है। पहले तीन हजार तक लोगों के सैंपल लिए जा रहे थे, लेकिन अब इनकी संख्या 9 हजार से पार पहुंच गई है। ज्यादा सैंपलों के साथ ही नए केसों की संख्या बढ़ रही है। साथ ही संक्रमण की दर में भी इजाफा हुआ है। प्रदेश की संक्रमण दर 1.01 प्रतिशत थी, जो आज आठ के पार हो गई है।
शुक्रवार को गुरुग्राम में 404, फरीदाबाद 113, पंचकूला 73, करनाल 50, हिसार 28, अंबाला 30, यमुनानगर 26, झज्जर 36, रोहतक में 21 नए केस मिले हैं। 10 ऐसे भी जिले हैं, जहां 10 से नीचे मामले मिले हैं।
हरियाणा में 31 मार्च तक राज्य में 4.55 करोड़ लोगों ने कोविड की खुराक ली है। इसमें 2.36 करोड़ ने पहली, 1.98 करोड़ ने दूसरी और तीसरी खुराक (बूस्टर डोज) 2.01 लोगों ने ही ली है।

पंजाब में कोरोना के 1,198 एक्टिव केस

पंजाब में लोग भीड़भाड़ वाले बाजारों में कोरोना की परवाह किए बगैर बिना मास्क के घूम रहे हैं। नतीजा रोज राज्य में कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं। लोगों की इसी लापरवाही को देखते हुए हेल्थ विभाग ने कोरोना की टेस्टिंग बढ़ा दी है। हेल्थ विभाग ने पूरे राज्य से 4836 सैंपल टेस्टिंग के लिए भेजे थे। इनमें में से 4729 की जांच में 236 का रिजल्ट पॉजिटिव आया है।
राज्यभर में कोरोना से ठीक होने पर 136 मरीजों को डिस्चार्ज भी किया गया, लेकिन फिर 236 नए कोरोना पीड़ित मिलने से पंजाब में एक्टिव मामलों का आंकड़ा 1198 पर जा पहुंचा है। राज्य में 25 मरीज ऐसे हैं, जिनकी हालत ज्यादा खराब होने पर उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा है।

जालंधर में कोरोना पीड़ितों का आंकड़ा कम हुआ है। जालंधर में 395 सैंपल में से 7 पॉजिटिव आए हैं। पटियाला में 146 में से 23, अमृतसर 580 में से 16, फाजिल्का 10 में से 4, मुक्तसर 67 में से 10, रोपड़ 232 में से 10, संगरूर 284 में से 5, बरनाला 110 में से 9, बठिंडा 151 में से 9, होशियारपुर में 306 में से 17, कपूरथला 209 में से 5, पठानकोट 121 में से 12, नवांशहर में 37 में से 1, फरीदकोट 22 में से 5 , फतेहगढ़ साहिब 97 में से 7, गुरदासपुर 150 में से 8, मोगा 140 में से 6 और तरनतारन में 352 सैंपल में से 4 का रिजल्ट पॉजिटिव आया है।

वर्ष 2020 में ऐसे बढ़ा था कोरोना

भारत में 7 अगस्त 2020 को कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ से अधिक हो गए थे। चार मई 2021 को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। पिछले साल 25 जनवरी को संक्रमण के कुल मामले चार करोड़ के पार चले गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *