सम के धाेरों को हेलिकॉप्टर से देखने के 5 मिनट के लगेंगे 7 हजार रुपए

Spread the love

जयपुर। डेजर्ट टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान पर्यटन विकास निगम ने अभिनव पहल शुरू की है। देशी-विदेशी सैलानी अब जैसलमेर में हेलिकॉप्टर जॉयराइड का लुत्फ उठा सकेंगे। जैसलमेर के सम ढाणी से निगम ने हेलिकॉप्टर जॉयराइड सुविधा शुरू कर दी है। इसके जरिये पर्यटक अब थार के मरुस्थल को देख सकते हैं। गत बुधवार को अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद, पर्यटन राज्यमंत्री मुरारीलाल मीणा एवं आरटीडीसी के चेयरमैन धर्मेन्द्र राठौड़ ने हरी झण्डी दिखाकर एवं फीता काटकर इस सुविधा का शुभारम्भ किया। इसकी सफलता के बाद जैसलमेर में सुविधा को जारी रखते हुए राजस्थान के अन्य पर्यटन स्थलों को जोड़ते हुए हवाई मार्ग द्वारा पर्यटन सर्किट बनाने पर काम किया जाएगा।

राज्य सरकार का जताया आभार

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद एवं जैसलमेर विधायक रुपाराम धनदे इस अवसर पर जैसलमेर में आयोजित समारोह में मौजूद रहे। वहीं पर्यटन राज्यमंत्री मुरारीलाल मीणा एवं आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेन्द्र राठौड़ जयपुर में मुख्यमंत्री निवास से वर्चुअल माध्यम से कार्यक्रम में जुड़े। इस दौरान मंत्री सालेह मोहम्मद ने कहा कि जैसलमेर की पर्यटन क्षेत्र में अलग पहचान है एवं पर्यटकों में जैसलमेर को लेकर अलग ही उत्साह देखने को मिलता है। उन्होंने जैसलमेर से इस सेवा को शुरू किए जाने पर राज्य सरकार का आभार व्यक्त किया। पर्यटन राज्यमंत्री मुरारीलाल मीणा ने कहा कि यह जॉयराइड ऐतिहासिक साबित होगी। इस नवाचार से जहां प्रदेश के टूरिज्म सेक्टर को फायदा मिलेगा। वहीं प्रदेश की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी।

कम समय में घूम सकेंगे ज्यादा पर्यटन स्थल

राजस्थान पर्यटन विकास निगम के चेयरमैन धर्मेन्द्र राठौड़ ने सुविधा को शुरू करते हुए कहा कि राजस्थान के लिए अच्छी खबर है कि जैसलमेर का सम क्षेत्र देश-विदेश के पर्यटकों की पहली पसंद बन रहा है। यहां पर्यटन सीजन पर लाखों पर्यटक आते हैं। निगम ने एवन कम्पनी के माध्यम से सम ढाणी, जैसलमेर से हेलिकॉप्टर जॉयराइड प्रारम्भ की है। इस पर्यटन सर्किट में धार्मिक, वाइल्ड लाइफ एवं हैरिटेज सर्किट बनाए जाएंगे, जिससे देशी-विदेशी पर्यटकों को कम समय में अधिक पर्यटन स्थलों का भ्रमण करने की सुविधा मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.