घोषणाओं का पुलिंदा मात्र है बजट, विधायकों को आई फोन बांटना शर्मनाक – शर्मा

Spread the love

जयपुर, 23 फ़रवरी। अखिल भारतीय शांति एवं एकजुटता संगठन के महासचिव एवं वरिष्ठ कम्युनिस्ट नेता रमेश शर्मा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से आज पेश किए गए बजट को घोषणाओं का पुलिंदा बताया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने चुनावी घोषणा पत्र में जो वादे किए थे, उन वादों को लेकर अब बजट में घोषणाएं की गई हैं। जिन वादों को कांग्रेस सरकार 3 साल में पूरा नहीं कर सकी, उन वादों का अब डेढ़ साल में पूरा होना असम्भव है। ऐसे में बजट में कि गई घोषणाएं जनता के साथ छलावे से अधिक कुछ नहीं है। उन्होंने कहा कि अधिकतर घोषणाएं लोक लुभावन हैं। बजट में आमजन के लिए कोई ऐसी घोषणा नहीं की गई है, जिससे उसको राहत मिल सके। कोरोना महामारी के चलते लोग बेरोजगारी और आर्थिक तंगी जैसे विकट हालातों से जूझ रहे हैं। काफी संख्या में निजी क्षेत्र में काम कर रहे लोगों की नौकरियां छूट गई हैं। ऐसे में बजट में ऐसी कोई घोषणा या योजना नहीं लाई गई है, जिससे बेरोजगार हुए लोगों को राहत मिल सके।
साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में जहां एक ओर लोग बेरोजगारी और आर्थिक तंगी जैसे विकट हालातों से जूझ रहे हैं, वहीं बजट की समाप्ति पर राज्य सरकार की ओर से विधायकों को एक लाख रुपए कीमत के आई फोन बांटना एक शर्मनाक कृत्य है, जिसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है। इस सरकार को आमजन की कोई परवाह नहीं है। इसका सिर्फ विधायकों की सुख सुविधाओं पर ध्यान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *