रेलवे के राजस्व को बढ़ाएं और खर्च को कम करें

Spread the love

नरेश सालेचा सदस्य (वित्त) ने अधिकारियों के साथ की बैठक


जयपुर.
नरेश सालेचा, सदस्य (वित्त) ने उत्तर पश्चिम रेलवे के दौरे के दौरान उत्तर पश्चिम रेलवे प्रधान कार्यालय में जीएम विजय शर्मा तथा विभागाध्यक्षों के साथ बैठक की।
उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शषि किरण के अनुसार नरेश सालेचा, सदस्य (वित्त) ने बैठक में कहा कि उत्तर पष्चिम रेलवे पर कार्यनिष्पादन बेहतर रहा है तथा यह रेलवे यात्री सुविधाओं के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य कर रही है। रेलवे बोर्ड द्वारा नई मॉडल एसओपी जारी करने का कार्य किया जा रहा है, जिसमें जोनल रेलवे तथा मण्डलों को और अधिक अधिकार दिये जाएंगे ताकि फील्ड लेवल पर तुरंत निर्णय लेकर कार्य किया जा सकें। हमें लोडिंग पर अधिक ध्यान केन्द्रित करना है तथा जिस कमोडिटिज का परिवहन सडक मार्ग से हो रहा है, उनको सुगम, तीव्र, किफायती तथा पर्यावरण अनुकूल रेलमार्ग की ओर आकर्षित करने के लिये प्रयास करने चाहिये तथा इसके लिये लोडिंग पॉलिसी में बदलाव की आवश्यकता हो तो उस पर भी विचार किया जा सकता है। सालेचा ने कहा कि विगत समय में रेलवे ने आधारभूत ढांचे को सुदृढ़ करने पर विशेष बल दिया है रेलवे का प्रयास है कि सभी कार्य समयानुसार किया जाये इसके लिये पर्याप्त बजट का आवंटन किया जा रहा है। कोरोना के कारण उत्पन्न परिस्थितियों में भी रेलवे ने अच्छा प्रदर्षन किया है और देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने में योगदान दिया है। रेलवे के राजस्व को बढ़ाने तथा खर्च को कम करने पर अधिकारियों को यथासंभव कार्य करने के दिशा-निर्देश दिये। रेलवे पर ईंधन के मद पर खर्च अधिक हो रहा है, इसको कन्ट्रोल करने पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता बताई।
जीएम विजय शर्मा ने उत्तर पश्चिम रेलवे के कार्य निष्पाादन तथा योजनाओं तथा प्रगति के बारे में अवगत करवाया तथा रेलवे बोर्ड स्तर पर लम्बित कार्यों के लिये सहयोग से अवगत करवाया। उत्तर पश्चिम रेलवे के कार्यनिष्पादन तथा प्रगति पर नरेश सालेचा, सदस्य (वित्त) ने संतोष व्यक्त किया तथा रेलवे बोर्ड स्तर से हरसंभव सहयोग की बात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *