आयकर विभाग छापेमारी: नकदी से भरे 156 बैग किए गए बरामद, अब तक 220 करोड़ रुपए से अधिक की नकदी बरामद

Spread the love

भुवनेश्वर/रांची। आयकर विभाग ने ओडिशा स्थित शराब बनाने वाली एक कंपनी के खिलाफ कर चोरी के आरोप में शुक्रवार को तीसरे दिन भी छापे मारे और अब तक 220 करोड़ रुपए से अधिक की नकदी बरामद की जा चुकी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आयकर विभाग की इस छापेमारी को लेकर शुक्रवार को विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि जनता से लूटा गया पैसा वापस करना होगा। मोदी ने अप्रत्यक्ष रूप से ओडिशा और झारखंड के उन नेताओं का जिक्र करते हुए यह टिप्पणी, जिनका शराब कंपनी से संबंध है।
मोदी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक हिंदी समाचारपत्र की खबर साझा की, जिसमें दावा किया गया है कि झारखंड से कांग्रेस सांसद धीरज प्रसाद साहू से कथित तौर पर जुड़े एक कारोबारी समूह के विभिन्न ठिकानों से आयकर विभाग ने 200 करोड़ रुपये नकदी बरामद की है। उन्होंने इस पोस्ट के साथ कई इमोजी भी लगाई।
शराब कंपनी से कथित तौर पर संबंध रखने वाले झारखंड के एक सांसद से जब ‘पीटीआई-भाषा’ ने संपर्क करने की कोशिश की तो उनका मोबाइल फोन बंद मिला। उनके रांची स्थित कार्यालय में कर्मचारियों ने बताया कि सांसद उपलब्ध नहीं हैं। अधिकारियों के मुताबिक आयकर विभाग ने ओडिशा स्थित शराब बनाने वाली एक कंपनी के खिलाफ कर चोरी के आरोप में शुक्रवार को तीसरे दिन भी छापे मारे और नकदी से भरे 156 बैग बरामद किए। उन्होंने बताया कि इन बैग से बरामद नकदी में से अब तक 20 करोड़ रुपये गिने जा चुके हैं। इसके साथ ही छापेमारी में अब तक 220 करोड़ रुपये बरामद किए गए हैं। आयकर विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को बोलांगीर जिले के सुदापाड़ा में छापेमारी के दौरान नकदी से भरे 156 बैग बरामद किए। आयकर विभाग ने संबलपुर, बोलांगीर, टिटिलागढ़, बौध, सुंदरगढ़, राउरकेला और भुवनेश्वर में छापेमारी की। शराब का कारोबार करने वाली कंपनी ने अभी तक छापे को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

भाजपा ने की सीबीआई जांच की मांग

इस बीच, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओडिशा इकाई ने एक संवाददाता सम्मेलन में पूरे प्रकरण की केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराए जाने की मांग की और ओडिशा में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) से स्पष्टीकरण भी मांगा। भाजपा प्रवक्ता मनोज महापात्रा ने ओडिशा के पश्चिमी क्षेत्र की एक महिला मंत्री की तस्वीरें भी दिखाईं। जिसमें वह उन शराब व्यापारियों में से एक के साथ मंच साझा करते हुए पाई गईं, जिनके ठिकानों पर आयकर विभाग की ओर से छापे मारे जा रहे हैं। हालांकि, बीजद विधायक सत्यनारायण प्रधान ने भाजपा के आरोप को खारिज करते हुए दावा किया कि ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को भ्रष्टाचार से नफरत है और वह पारदर्शिता में विश्वास करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.