स्काउट शिविर में दी महत्वपूर्ण जानकारियां

Spread the love

मदनगंज किशनगढ़. रतनलाल कँवरलाल पाटनी राजकीय स्नातकोतर महाविद्यालय, किशनगढ़ और राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड स्थानीय संघ किशनगढ़ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित निपुण कैंप में योगासन, प्राणायाम, सर्वधर्म प्रार्थना, द्वितीय सोपान की गांठे, ट्रेकिंग, हाईकिंग, विभिन्न प्रकार के निनाद, श्रमदान, शपथ, कैंप फायर, “पर्यावरण संरक्षण की महत्ता एवं स्काउट की भूमिका” विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया|


रोवर प्रभारी डॉ. अविनाश अग्रवाल ने बताया कि दिन की शुरुआत सचिव वीरेन्द्र शर्मा ने बीपी-6, योगासन, सूर्यनमस्कार, प्राणायाम से की | इसके बाद ध्वजारोहण किया तथा परेड, सलामी, स्काउट गीत और नारों का अभ्यास करवाया| विभिन्न प्रकार के नारों जिन्हें निनाद कहा जाता है, जो संक्षिप्त, प्रभावी और विषय विशेषानुसार बनाये एवं प्रयोग में लाये जाते है का अभ्यास करवाया और पर्यावरण संरक्षण, सामाजिक मुद्दों, नवाचारो इत्यादि पर नए निनाद बनाने हेतु प्रेरित किया| द्वितीय सोपान की गांठो जैसे टिम्बर हिच, रोलिंग हिच, फिगर ऑफ़ एट, राउंड टर्न एंड हिसेज इत्यादी का अभ्यास कराया| कमिश्नर राजेंद्र रावल ने अनुमान द्वारा वजन, भार, नदी की चौड़ाई, आदि ज्ञात करने की विधियों की जानकारी दी|
रोवर प्रभारी डॉ. अविनाश अग्रवाल ने हाइक की जानकारी देते हुए उसमे उपयोगी जानकारी, सामग्री, एवं सावधानियो के बारे में जानकारी दी गई| सभी रोवर्स ने स्काउट भवन से चौवडजा हनुमान मंदिर तक ट्रैकिंग व हाइकिंग स्काउट चिन्हों की सहायता से शहर का भ्रमण आनंद और उत्साह से किया तथा इस दौरान अनेक जीवनोपयोगी व्यवहारिक जानकारिया प्राप्त की| मंदिर स्थल पर दर्शन कर हनुमान चालीसा पाठ, सत्संग और भजन कीर्तन कर मानसिक शान्ति का अभ्यास किया|

राधेश्याम शर्मा ने “पर्यावरण संरक्षण की महत्ता एवं स्काउट की भूमिका” विषय पर रोवर्स को बोद्धिक देते हुए बताया की शुद्ध पर्यावरण और समृद्ध प्रकृति समस्त संसार के जीवों के लिए परम आवश्यक है तथा सभी जीव-निर्जीव पंचतत्वों पृथ्वी, जल अग्नि, वायु, और आकाश से मिलकर बने है| विभिन्न उदाहरण से रोवर्स को इसकी महत्ता समझाते हुए बताया की इन प्राण तत्वों को शुद्ध, संतुलित एवं सुन्दर बनांये रखना हर स्काउट का परम कर्तव्य है एवं पर्यावरण संरक्षण हेतु सभी रोवर्स को शपथ दिलाई गयी| उन्होंने व्याख्यान के अंत में मंदिर एवं किशनगढ़ शहर की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि की सारगर्भित जानकारी प्रदान की|
स्काउट संघ सचिव वीरेंद्र शर्मा ने कैंप का समापन कैंप फायर के साथ किया जिसमे रोवर्स ने सामूहिक लोक गीत, लोक नृत्य, शिविर ज्वाल गीत, रात्रिगीत इत्यादि का आनंदपूर्वक ज्ञान प्राप्त किया|
रोवर प्रभारी डॉ. अविनाश अग्रवाल ने बताया की कैंप में राजकीय महाविद्यालय किशनगढ़ के कुल 18 छात्रो अंकित, दीपक, महेंद्र बैरवा, महेंद्र वैष्णव, मोहनलाल, नरेन्द्र, निलेश, पंकज, प्रमोद, राहुल, राकेश, रामराज, समीर, संदीप, सोनू, सुमित, विजय, एवं विकास ने निपुण कैंप का प्रशिक्षण प्राप्त किया| महा विद्यालय प्राचार्य जगदीश प्रसाद शुक्ला ने इस पर खुशी जाहिर करते हुए सभी रोवर्स को बधाइयां दी|

Leave a Reply

Your email address will not be published.