चप्पल में ब्लूटूथ लगाए हुए नकलचियों को पकड़ा

Spread the love

पूरे राजस्थान में पुलिस ने की कार्रवाई


जयपुर.
राजस्थान में अब नकलची भी हाइटेक हो गए है। रीट परीक्षा में चप्पट में ब्लूटूथ उपकरण लगाए हुए नकलचियों को पुलिस ने पकड़ा है।
बीकानेर में अभ्यर्थियों को ब्लूटूथ डिवाइस लगी चप्पल देने वाले 4 लोगों को पुलिस ने पकड़ा है। बीकानेर के गंगाशहर में ये कार्रवाई की गई है। आरोपी चप्पल में डिवाइस लगाकर अभ्यर्थियों को नकल कराने में जुटे थे। शुरुआती जांच में सामने आया कि आरोपियों ने डिवाइस लगी चप्पल करीब 6 लाख रुपए में अभ्यर्थियों को बेची थी।
पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने बताया कि चार युवकों को गिरफ्त में लिया गया है। ये लोग चप्पल में डिवाइस लगाकर सेंटर पर नकल कराने की कोशिश में जुटे हुए थे। इनसे कई महत्वपूर्ण सामान भी मिले हैं जो नकल में काम आते हैं। यह कार्रवाई गंगाशहर पुलिस और डीएसटी टीम ने मिलकर की है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह इंदोरिया चारों युवकों से पूछताछ कर रहे हैं। इंदोरिया ने बताया कि गिरफ्तार युवकों ने डिवाइस लगी चप्पलें तैयार की थीं। अब पता लगाया जा रहा है कि इन्होंने किस किस स्टूडेंट्स को चप्पल देकर परीक्षा केंद्रों पर भेजा है। पुलिस ने चार युवकों को पकड़ा है। ये सभी चुरू के रहने वाले हैं। वहीं एक आरोपी कलेरा को नामजद किया गया है। जो पहले भी नकल के एक मामले में गिरफ्तार हो चुका है।
पुलिस करेगी मामले का खुलासा
थानाधिकारी राणीदान ने बताया कि बीकानेर पुलिस ने नकल पर काबू पाने के लिए अपनी साइबर टीम को सक्रिय किया हुआ था। जैसे ही नकल का कोई इनपुट आ रहा है वैसे ही उसे तत्काल चैक किया जा रहा है। इसी प्रयास के बीच गंगाशहर पुलिस को यह सफलता मिली है।
नागौर में सूफिया कॉलेज में परीक्षा शुरू होने से पहले 6 वॉकी-टॉकी जब्त किए गए हैं। ये सभी वॉकी-टॉकी कॉलेज सिक्योरिटी और स्टाफ के थे।
चौमू में भी एक मुन्नाभाई एग्जाम देते हिरासत में लिया गया है जो गोविंदगढ़ के कालू का बास कृष्णा कॉलेज में डमी परीक्षार्थी बनकर पहुंचा था। आरोपी बिहार का रहने वाला है। वहीं मूल परिक्षार्थी भरतपुर का रहने वाला है। दोनों के पास पुलिस को एक जैसा एडमिट कार्ड भी मिला है। फिलहाल दोनों को हिरासत में ले लिया गया है।

किशनगढ़ में एक पुलिस गिरफ्त में

अजमेर एसपी जगदीश चंद्र शर्मा ने बताया कि एटीएस और एसओजी की सूचना पर जिला स्पेशन टीम और मदनगंज पुलिस थाने की टीम ने सयुंक्त कार्यवाही करते हुए मदनगंज के तेली मोहल्ला स्थित आचार्य धर्मसागर दिगंबर जैन उच्च माध्यमिक विद्यालय में परीक्षार्थी गणेश राम ढाका निवासी चुरू के बाये पैर की चप्पल में ब्लूटूथ डिवाइस और एक सिम मिली। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर थाना रामगंज में प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
अजमेर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण किशन सिंह भाटी के निर्देशन में वृत्ताधिकारी किशनगढ़ भूपेंद्र शर्मा के सुपरविजन में टीम का गठन किया गया। इस टीम में मदनगंज पुलिस थानाधिकारी मनीष सिंह, सहायक उपनिरीक्षक जगमाल दायमा, रामबाबू, रामनिवास, सुरेंद्र दायमा, सुरेश, सुरेश चंद, रामनिवास, दीपक सिंह शामिल रहे।

About newsray24

Check Also

हारित भवन में डांडिया आज से

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. श्री हरियाणा गौड़ ब्राह्मण पंचायत संस्था युवासंघ मदनगंज के सचिव …

Leave a Reply

Your email address will not be published.