बहन को ओढ़ाई नोटों की चुनरी, मायरे में दिए 71 लाख रुपए

Spread the love

नागौर, 20 अप्रेल। राजस्थान में इन दिनों शादियों का सीजन चल रहा है। इसी बीच एक बार फिर चर्चा में है नागौर का मायरा। यहां एक किसान ने अपनी 2 भांजियों की शादी में करीब 71 लाख रुपए का मायरा (भात) भरा। बहन के यहां मायरा भरने आए भाई व साथ आए अन्य लोग थाली में नोट और जेवरात भरकर लाए तो वहां कार्यक्रम में मौजूद लोगों की आंखे फटी की फटी रह गई। भाइयों के इस प्यार को देख इकलौती बहन की आंख में भी आंसू आ गए। इस दौरान भाइयों ने बहन को 500-500 रुपए के नोटों से सजी चुनरी भी ओढ़ाई।

यह मायरा भरा गया है नागौर जिले के लाडनूं शहर में। सीता देवी की दो बेटियों प्रियंका (27) और स्वाति (25) की मंगलवार को शादी थी। भाई मगनाराम ने बताया कि 5 भाइयों के बीच सीता देवी इकलौती बहन है। बड़े भाई सुखदेव की तीन साल पहले मौत हो गई थी। बड़े भाई की इच्छा थी कि बहन का मायरा जब भी भरे उसकी चर्चा हो। मायरा में किसी भी तरह की कमी नहीं रहनी चाहिए। इस पर जायल के राजोद निवासी चारों भाई भाई मगनाराम, जगदीश, जेनाराम और सहदेव रेवाड़ा मायरा लेकर पहुंचे। रिश्तेदारों व पंच पटेल की मौजूदगी में यह मायरा भरा गया।

30 साल से जमा कर रहे थे रुपए

मगनाराम ने बताया कि बड़े भाई की ईच्छा के अनुसार 30 साल से वे बहन के मायरा भरने के लिए रुपए जमा कर रहे थे। शुरू से ही परिवार के सदस्यों की इच्छा थी कि दो भांजी का मायरा गाजे-बाजे के साथ भरा जाए। इस पर चारों मामा थाली में 51 लाख 11 हजार रुपए, 25 तोला सोना और 1 किलो चांदी के जेवरात लेकर बहन के ससुराल पहुंचे। मायरा भरने के दौरान बहन के ससुराल वालों को भी सोने-चांदी के जेवरात गिफ्ट के रूप में दिए गए। यह मायरा दिनभर नागौर जिले में चर्चा का विषय बना रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *