रामगढ़ बांध के पास पहाड़ी पर लगी आग, 5 हेक्टेयर में वन सम्पदा को नुकसान

Spread the love

जमवारामगढ़ /विकास शर्मा। उपखंड क्षेत्र जमवारामगढ़ के रायसर वन्यजीव अभयारण्य क्षेत्र के रामगढ़ बांध के पास बुधवार को अचानक पहाड़ी में आग लग गई।

ग्रामीणों ने बुधवार सुबह 6.00 बजे वन विभाग के अधिकारियों को सूचित किया कि जमवारामगढ़ बांध के पास वन क्षेत्र में पहाड़ी के ऊपर आग लगी हुई है। ग्रामीणों की सूचना पर तत्काल नाका बासना, रायपुर, दांतली व रायसर से स्टाफ आवश्यक संसाधनों के साथ आग बुझाने के हेतु मय जाब्ता घटनास्थल पर पहुंचे। क्षेत्रीय वन अधिकारी, वन्य जीव जमवारामगढ़ से भी से अतिरिक्त जाब्ता मंगवाया गया। वन क्षेत्र में लगी आग को बुझाने में 6 घंटे की कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग एवं स्टाफ द्वारा तत्काल मौके पर पहुंचने से आग को जल्दी ही नियंत्रण कर लिया गया अन्यथा आग अभयारण्य क्षेत्र के बड़े भूभाग को अपने आगोश में ले सकती थी। तेज हवा नहीं चलने के कारण भी आग ज्यादा विकराल रूप धारण नहीं कर सकी । आग से किसी भी वन्य जीव किसी प्रकार की कोई क्षति नहीं पहुंची है। आग से करीब 5 हेक्टेयर वन क्षेत्र में घास फूस व सुखी पत्तियां जलकर नष्ट हो गई। आग बुझाने के लिए मौके पर अग्निशमन की गाड़ी भी पहुंची लेकिन आग पहाड़ी की चोटी पर होने के कारण अग्निशमन गाड़ी का उपयोग नहीं लिया जा सका। एहतियातन तौर पर कर्मचारियों को मौके पर तैनात किया गया है। आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चला है तथा आग लगने के कारणों की जांच प्रारंभ कर दी गई है। पता लगने पर दोषियों के विरुद्ध नियमानुसार कठोर कार्रवाई की जाएगी। हाल में ही गांव गांव जाकर लोगों को जंगल में उपासना स्थलों तथा मंदिरों जलती हुई आग नहीं छोड़ने व ज्वलनशील सामग्री नहीं ले जाने हेतु जागरूक भी किया गया था।मौके पर प्रभारी वनपाल नाका बासना राम गोपाल रैगर, दांतली वनपाल रूपेश कुमार भट्ट, रायसर वनपाल प्रभारी रामस्वरूप मीणा, झोल नाका प्रभारी कुलदीप सिंह, जमवारामगढ़ वनपाल नाका सीताराम मीणा एवं बंधा नाका वनपाल बजरंग मीणा मय जाब्ते के मौके पर मौजूद आग को नियंत्रण में किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *