आखिर मिल गया अपहृत बालक धीरिश

Spread the love

सीकर से अपहृत बालक झुंझुनूं में नटास नदी क्षेत्र से मिला

बालक की मां ने खुशी में देवी माता का मंदिर बनवाने की घोषणा की

सीकर. जिले के उद्योग नगर थाना क्षेत्र में मंगलवार सुबह स्कूल जाते समय अज्ञात बदमाशों द्बारा अपहृत नौ वर्षीय बालक शाम को झुंझुनूं के गुढ़ागौड़जी थाना क्षेत्र से सकुशल मिल गया है। इस पर बालक की मां ने भाटीवाड़ा गांव में देवी माता का मंदिर बनवाने की घोषणा की है।
बालक के सुरक्षित मिलने पर परिजन व रिश्तेदारों में प्रसन्नता का माहौल है व पुलिस ने भी राहत की सांस ली है।


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बालक के सकुशल मिलने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए कार्रवाई को अंजाम देने वाली सीकर व झुंझुनूं पुलिस की प्रशंसा की और उन्हें बधाई दी है। झुंझुनूं जिला पुलिस अधीक्षक मृदुल कछावा ने बताया कि पुलिस की नाकाबंदी और सघन तलाशी अभियान के दबाव के चलते अपहरणकर्ता नौ वर्षीय बालक को गुढ़ागौड़जी थाना क्षेत्र के भटीवाड गांव के समीप नाटास नदी क्षेत्र में छोड़ कर फरार हो गये। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस दल ने मौके पर पहुंच कर बालक को सकुशल बरामद कर लिया। उन्होंने बताया कि बालक का अपहरण क्यों किया गया था इसकी जांच की जा रही है।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट में कहा, ”मुझे प्रसन्नता है कि सीकर से सुबह अपहृत बालक धीरीश को त्वरित पुलिस कार्रवाई कर सकुशल दस्तयाब कर लिया गया है। मैं सुबह से ही इस घटना की निगरानी कर रहा था। इस सफल कार्रवाई को अंजाम देने वाली पुलिस टीम प्रशंसा की पात्र है। मैं सीकर व झुंझुनूं पुलिस को बधाई देता हूं। उल्लेखनीय है कि सीकर जिले के उद्योग नगर थाना क्षेत्र में मंगलवार को कार में सवार अज्ञात बदमाशों ने अपने नाना के साथ स्कूल जा रहे नौ साल के एक बच्चे का अपहरण कर लिया था। पीड़ित बालक के पिता महावीर हुड्डा एक कोचिग संस्थान के मालिक हैं। इस संबंध में उन्होंने उद्योग नगर थाने में मामला दर्ज करवाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.