माल लदान बढ़ाने और वैक्सीनेशन पर जोर

Spread the love

यात्री गाडिय़ों का हो सुचारू संचालन
उत्तर पश्चिम रेलवे जीएम ने डीआरएम के साथ की समीक्षा बैठक


जयपुर.
उत्तर पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आनंद प्रकाश ने विभागों के विभागाध्यक्षों तथा चारों मण्डलों के मण्डल रेल प्रबंधकों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में सभी मण्डल रेल प्रबंधक वीडियो कॉन्फे्रंस के माध्यम से जुड़े हुए थेे। समीक्षा बैठक में आनन्द प्रकाश महाप्रबंधक-उत्तर पश्चिम रेलवे ने वर्तमान में कोविड के कारण उत्पन्न हुई परिस्थितियों को ध्यान में रखकर सभी को कार्य करने के दिशा-निर्देश प्रदान किए।
उत्तर पश्चिम रेलवे के उपहाप्रबंधक (सामान्य) व मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शशि किरण ने बताया कि समीक्षा बैठक में जीएम आनन्द प्रकाश ने कहा कि वर्तमान में हम 400 से अधिक यात्री गाडिय़ों का संचालन कर रहे है। कोरोना से पूर्व की स्थिति में उत्तर पश्चिम रेलवे पर 550 यात्री गाडिय़ों का संचालन कर रहे थे। रेलवे बोर्ड द्वारा उत्तर पश्चिम रेलवे को विगत वर्ष के माल लदान के प्रदर्शन को देखते हुये इस वर्ष अधिक लदान का लक्ष्य प्रदान किया है। उल्लेखनीय है कि उत्तर पश्चिम रेलवे ने वर्ष 2020-21 में 22.24 मिलियन टन माल लदान किया तथा इस वित्तीय वर्ष में रेलवे बोर्ड द्वारा 26.50 मिलियन टन का लक्ष्य प्रदान किया है।
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये जीएम आनन्द प्रकाश ने बताया कि सभी रेलवे कर्मचारियों का वैक्सीनेशन किया जाना आवश्यक है। हमारा लक्ष्य है कि हम जल्द ही इसको पूरा करें और सरकार से समन्वय कर रेलकर्मियों के साथ-साथ उनके परिवारजनों का भी वैक्सीनेशन किया जाये। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका बताई जा रही है, जिसको ध्यान में रखते हुये हमें अभी से तैयारियां करनी है।

संरक्षा हमारी प्राथमिकता

रेल संचालन पर दिशानिर्देश प्रदान करते हुये आनन्द प्रकाश ने कहा कि रेल संचालन में संरक्षा हमारी प्राथमिकता है तथा इसको सुदृढ़ बनाने के लिये हम प्रतिबद्ध है। आमजन के लिये रेलवे द्वारा स्पेशल रेलसेवाओं का संचालन किया जा रहा है उत्तर पश्चिम रेलवे पर स्थितियां सामान्य होने के बाद 400 से अधिक यात्री ट्रेनों का संचालन चरणबद्ध तरीके से प्रारम्भ कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त नियमित समीक्षा की जा रही है ताकि जिस भी मार्ग पर आवश्यकता हो, स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जा सके। इसके साथ ही रेलवे का दायित्व बनता है कि यात्रियों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुये अधिकाधिक सुविधाएं प्रदान की जाये। उत्तर पश्चिम रेलवे पर सभी ट्रेनों में स्वच्छता और सैनिटाइजेशन पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है तथा यात्री भी सभी प्रॉटोकॉल का पालन करें।

बढ़ाए माल लदान

जीएम आनन्द प्रकाश ने उत्तर पश्चिम रेलवे पर लोडिंग को बढ़ाने के बारे में भी बात की, जिसमें उन्होंने बताया कि इस वर्ष रेलवे बोर्ड द्वारा हमें अधिक माल लदान का लक्ष्य प्रदान किया गया है, जिसके लिये हमें अतिरिक्त प्रयास करने होगे। लदान को बढ़ाने के लिये बिजनेस डवलपमेंट यूनिट के माध्यम से नये ग्राहकों को जोडऩे की बात की गई। साथ ही मालगाडिय़ों की औसत गति को बढ़ाने पर भी चर्चा की गई। आधारभूत ढांचे को सुदृढ़ करने के चल रहे दोहरीकरण व विद्युतीकरण के कार्यों की भी समीक्षा की और इनको समयानुसार पूरा करने पर बल दिया ताकि इनका लाभ मिल सके। इसके साथ ही उन्होंने मानसून के दौरान जिन रेलखण्डों पर पूर्व वर्षों के अनुमान के आधार पर अत्यधिक बारिश की संभावना होती है ऐसे स्थानों पर सघन निगरानी के लिये निर्देश दिए। साथ ही रेलकर्मियों के मानव संसाधन से जुड़े मुद्दों के शीघ्र समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देश प्रदान किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.