रामलीला के प्रभावी मंचन ने मोहा मन

Spread the love

रात 8 बजे होती है शुरूआत
धर्म प्रचारक रामलीला मंडल काशी की प्रस्तुति


मदनगंज-किशनगढ़.
धर्म प्रचारक रामलीला मंडल काशी द्वारा रविंद्र रंगमंच मदनगंज किशनगढ़ में रामलीला का मंचन किया जाता है। अनुभवी कलाकारों के इस प्रभावी मंचन ने श्रद्धालुओं का मन मोह लिया है।
रामलीला के चौथे दिन परशुराम लक्ष्मण संवाद भगवान राम सीता विवाह का मंचन हुआ। भारतीय संस्कृति नाट्य कला को जीवित रखने हेतु पहली बार काशी के कलाकारों द्वारा किशनगढ़ में बहुत ही अद्भुत रामलीला का मंचन किया जा रहा है जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं क्योंकि रामलीला हमारी संस्कृति है। ऐसे आयोजनों से बच्चों में संस्कार स्थापित होते हैं। नाट्यकला जीवित होने के साथ सनातन धर्म का प्रचार प्रसार भी होता है। परशुराम लक्ष्मण संवाद अद्भुत रहा जिसे देख दर्शक बहुत आनंदित हुए। बाद में राम जी परशुराम भगवान को समझाते और कहते हैं हे प्रभु क्षत्रिय तो सदियों से ब्राह्मणों के चरणों में रहा है मैं तो सिर्फ राम हूं आप तो परशुराम है मैं आपसे बड़ा कहां हूं। इस पर परशुराम जी सारंग धनुष देते हैं तो भगवान राम प्रत्यंचा और बाण चढ़ा देते हैं और परशुराम भगवान को पता चल जाता है कि तो भगवान का अवतार हो गया है। उसके बाद भगवान श्री राम माता सीता का विवाह होता है वैदिक मंत्रों द्वारा सात फेरों के साथ मंगल गीतों के साथ भगवान राम का विवाह किया गया जिसमें माताएं बहने नृत्य और गायन कर भक्तिभाव का माहौल बन जाता है।
राम जी के भक्तों द्वारा गुप्त दान ने माता सीता का कन्यादान किया गया कुछ आभूषण और वस्त्र माता सीता को प्रदान किए गए। इसी क्रम में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजेंद्र यादव याशिका ग्रेनाइट के द्वारा भक्तिभाव से माता सीता का कन्यादान किया गया। राजेंद्र यादव ने कहा कि हम सभी को आगे आकर सहयोग करना चाहिए क्योंकि यह कलाकार इन्हीं आयोजनों से इनका जीवन यापन होता है रामलीला हमारी विरासत है हमारे सनातन धर्म के आराध्य भगवान राम की लीला है। ऐसे आयोजनों से बच्चों में संस्कार स्थापित होते है।
भाजपा नेता शशिकांत पाटोदिया इस आयोजन के लिए तन मन धन से सहयोग कर रहे हैं उनके द्वारा भी कन्यादान में सहयोग किया गया। उन्होंने कहा कि काशी की रामलीला काफी सालों बाद हो रही यह कलाकार बहुत अद्भुत है बहुत जीवंत रामलीला कर रहे हैं। मैं अपने जीवन में पहली बार इतनी अद्भुत और इतने मजे हुए कलाकारों को देख रहा हूं और हमारा दायित्व भी बनता है कि हमारे नगर में इतनी बड़ी मंडली पधारी है राम की लीला करने के लिए तो उनका सहयोग हमें करना चाहिए इससे गांव और हमारे शहर की भी गरिमा बढ़ेगी और कलाकारों का भी मनोबल बढ़ेगा। कार्यक्रम में अग्रवाल समाज अध्यक्ष घनश्याम अग्रवाल, मनोहर अग्रवाल लक्ष्मीनारायण सोनगरा, दीपक शर्मा और नगर के कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

About newsray24

Check Also

आज का चौघड़िया

Spread the love जयपुर. दिनांक :-25:-सितम्बर :-2022वार :-रविवार तिथि :-15अमावस्या:-27:25पक्ष:-कृष्णपक्षमाह:-आश्विननक्षत्र:-उत्तराफाल्गुनी:-29:55योग:-शुभ:-09:04करण:-चतुष्पाद:-15:22चन्द्रमा:-सिंह:-11:22/कन्यासुर्योदय:-06:22सुर्यास्त:-18:23दिशा शुल…..पश्चिमनिवारण उपाय:-जौं का सेवनऋतु :-शरद्-ऋतुगुलीक …

Leave a Reply

Your email address will not be published.