जर्जर स्कूल भवन ढहा न दे सुनहरे भविष्य की इमारत

Spread the love

जमवारामगढ़, 29 जनवरी (विकास शर्मा)। पंचायत समिति आंधी क्षेत्र के राजकीय प्राथमिक विद्यालय बामनवाटी का भवन जर्जर होने से हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है।
विद्यालय भवन के कमरों की छत की 5-7 पट्टीयां टूटी हुई हैं। छत की पट्टियों को टूटे हुए कई वर्ष हो गए हैं, लेकिन अभी तक छत की पट्टियों को नहीं बदला गया है। ये पट्टियां नीचे नहीं गिरे, इसके लिए इन्हें लकड़ी बल्ली व लोहे की एंगिल लगाकर रोका गया है। ऐसे में बच्चों के भागते-दौड़ते बल्ली से टकराने पर पट्टियों के नीचे गिरने का हमेशा अंदेशा बना रहता है। तत्कालीन प्रधान रामजीलाल मीना के निरीक्षण के दौरान भी इसके बारे में अवगत कराया गया था, लेकिन अभी तक इस ओर ध्यान नहीं दिया गया है। समय – समय पर विद्यालय स्टॉफ द्वारा भी जर्जर भवन की सूचना मांगे जाने पर प्रशासन को अवगत कराया जाता रहा है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं किए जाने से ऐसा लग रहा है कि सारी सूचनाएं कागजों में ही दफन होकर रह गई हैं। ऐसे में स्कूल में पढऩे वाले बच्चे टूटी हुई छत के नीचे बैठने को मजबूर हैं, जिससे उनके मन में भय बना रहता है। वहीं जब तक बच्चे वापस सकुशल घर नहीं लौटते उनके अभिभावकों को भी चिंता सताती रहती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *