निर्माण श्रमिक भी जाएंगे जयपुर

Spread the love

छह मई को रैली में रखेंगे कल्याणकारी योजनाओं की मांगे


मदनगंज-किशनगढ़.
भारतीय मजदूर संघ की जयपुर में 6 मई को होने वाली रैली में निर्माण श्रमिक भी भाग लेंगे। प्रदेश संयोजक अखिल भारतीय कंस्ट्क्शन मजदूर महासंघ एवं समस्त कार्यसमिति व सदस्य भारतीय बिल्डिंग मजदूर संघ जिला अजमेर के विश्राम मालाकार ने बताया कि जयपुर रैली में निर्माण श्रमिकों से जुड़ी हुई विभिन्न मांगे राजस्थान सरकार के सामने रखी जाएगी।
शुभशक्ती योजना को पुन: बहाल कर नये आवेदन लेना शुरु करें।
शुभशक्ती योजना की राशि 55000 से बढाकर एक लाख रुपये करें।
निर्माण श्रमिक सुलभ्य आवास योजना को पुन शुरु करें जिससे गरीब निर्माण मजदूर को अपना आवास बनाने में मदद मिल सके।
निर्माण श्रमिक टूल किट योजना को वापस शुरु करें।
निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना का भुगतान समय पर हो।
दुघर्टना व सामान्य मृत्यु के आवेदनों का भुगतान नहीं हो रहा है जो आवेदन के बाद 7 दिन में होना चाहिए जिससे आहत परिवारजनो को राहत मिल सके।
दुर्घटना में चोटिल होने पर सहायता तुरंत मिलनी चाहिए जिससे गरीब निर्माण श्रमिक को इलाज में मदद मिल सके लेकिन तीन साल से सहायता नहीं मिल रही है उसको समय पर दिलाए।
सिलोकोसिस पीडि़त सहायता योजना का भुगतान नहीं हो रहा है।
शुभशक्ती योजना के आवेदन जिनका भोतिक सत्यापन भी हो चुका है लेकिन पिछले तीन साल से भुगतान नहीं हो रहा है उनका भुगतान अतिशीघ्र करवाएं।
निर्माण श्रमिक साइकिल सहायता योजना पिछले चार साल से बंद पडी है जिसको पुन शुरु करवाएं जिससे निर्माण श्रमिकों को कार्यस्थल पर आने जाने में मदद मिल सके।
प्रसुति सहायता योजना का भुगतान समय पर हो।
सभी योजनाओं के निस्तारण की समय सीमा अधिकतम 30 दिन से अधिक ना हो।
दूसरे राज्यों की तरह निर्माण श्रमिक को नई योजना बनाकर सिलाई मशीन दिलाऐं ताकि वो खुद के कपडे खुद सिल सकें और उनके बच्चे भी सिलाई सीखकर परिवार की मदद कर सके।
सभी निर्माण श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा दिलाई जाए साठ साल बाद उचित पेंशन की घोषणा करें।
निर्माण श्रमिकों से काम करवा कर कई दबंग लोग भुगतान नहीं देते है ओर गरीब मजदूर की मैहनत की कमाई खा जाते है इसके लिए सरकार ठोस कानून बनाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.