कांग्रे्रस विधायक ने चिकित्सा मंत्री के आवास पर दिया धरना

Spread the love

अल्पसंख्यक वर्ग के चिकित्सकों के तबादलों से हुए नाराज


जयपुर.
अपने क्षेत्र में अल्पसंख्यक वर्ग के चिकित्सकों के तबादलों से नाराज किशनपोल से कांग्रेस विधायक अमीन कागजी शनिवार को सैकड़ों समर्थकों के साथ चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा के आवास पर पहुंच गए और धरना दे दिया।  इस दौरान समर्थकों ने जमकर नारेबाजी भी की। चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा और विधायक अमीन कागजी के बीच नोकझोंक भी हुई। मंत्री ने विधायक को धरने से उठाने के प्रयास भी किए लेकिन विधायक समर्थकों के साथ ही धरने पर बैठे रहे। आखिर में मंत्री परसादी लाल मीणा विधायक कागजी को मनाकर धरने से उठाकर अंदर लेकर गए।  लेकिन समर्थक दरवाजे पर धरना देकर बैठ गए।   
विधायक ने मंत्री मीणा को कहा कि उनके क्षेत्र में वहीं चिकित्सक और अधिकारी लगेगा जिसकी सिफारिश वो करेंगे। अमीन कागजी ने कहा कि मंत्री से मिलकर डॉक्टर्स के तबादलों पर आपत्ति जताई थी। तो अगली लिस्ट में ट्रांसफर करने के लिए कहा था। लेकिन शुक्रवार को जो लिस्ट निकाली गयी उसके ट्रांसफर वापस नहीं किया जबकि ऐसे ही अन्य स्थानों के ट्रांसफर किये डॉक्टर्स का ट्रांसफर कैंसिल करके ट्रांसफर कर दिया। यह कैसे हो सकता है। धरने के दौरान विधायक अमीन कागजी ने चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा के फैसले पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि उनके क्षेत्र में 4 ही अल्पसंख्यक वर्ग से चिकित्सक थे और उनके भी तबादले कर दिए गए आखिर चिकित्सा मंत्री की मानसिकता क्या है। उन्होंने कहा कि उनके क्षेत्र में जनता क्लिनिक है सरकारी डिस्पेंसरी  हैं बावजूद इसके उनकी जानकारी के बगैर आखिर क्यों तबादले किए गए। इस पर मंत्री परसादी लाल मीणा ने कहा कि जो तबादले किए गए हैं वह नियमों के तहत किए गए लेकिन फिर भी विधायक चाहते हैं तो उन्हीं के अनुसार तबादले हो सकते हैं।  इस पर अमीन कागजी नहीं माने और मौके पर ही नए आदेश निकालने की मांग पर अड़े रहे । काफी देर तक मंत्री परसादी लाल मीणा के द्वारा समझाइश के बाद विधायक ने धरना समाप्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.