मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, पांचों राज्यों में भाजपा हारेगी, राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी

Spread the love

नई दिल्ली। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को कहा कि चुनाव बाद सर्वेक्षणों (एग्जिट पोल) में कुछ भी आंकड़े दिखाए जाएं, लेकिन मुझे लगता है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने कांग्रेस मुख्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में यह दावा भी किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में हारने वाली है।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने केंद्र सरकार पर लोकतंत्र और संवैधानिक संस्थाओं को नष्ट करने का आरोप लगाया तथा कहा कि आने वाले समय में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के भीतर ‘समझदार लोग’ विद्रोह करेंगे। राजस्थान में विधानसभा की 199 सीटों के लिए गत 25 नवंबर को मतदान संपन्न हुआ। तीन दिसंबर को मतगणना होगी।
चुनाव नतीजों की संभावना से जुड़े सवाल पर गहलोत ने कहा, ‘‘एग्जिट पोल कुछ भी आए, सटोरिये कुछ भी कह दें, मीडिया सर्वेक्षण में कुछ भी कहा जाए, मुझे लगता है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी।’’ उन्होंने यह दावा भी किया कि पांच राज्यों में भाजपा कहीं भी नहीं जीत रही है।
उनका कहना था कि इस बार राजस्थान में जनता कांग्रेस की सरकार फिर से बनाएगी। यह पहली सरकार है जिसके खिलाफ सत्ता विरोधी माहौल नहीं है। मुख्यमंत्री के बारे में सबकी एक राय है, यहां तक कि भाजपा का वोटर भी कहेगा कि (मुख्यमंत्री ने) काम करने में कोई कमी नहीं रखी है। गहलोत ने आरोप लगाया, ‘‘प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और केंद्र के मंत्रियों, सभी ने डराने वाली, तनाव पैदा करने वाली भाषा बोली…ये लोग राजस्थान में सरकार गिराने में विफल रहे, यह दर्द उनके दिल में छिपा हुआ है। इसलिए उन्होंने यह योजना बनाई कि किसी भी तरह से राजस्थान में कांग्रेस की सरकार फिर नहीं बनने देना है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा का यह प्रयास सफल नहीं हुआ, इसलिए कांग्रेस की सरकार बनेगी।

मोदी जी का प्रभाव अब पहले जैसा नहीं रहा

विधायकों एवं सांसदों से संबंधित उत्तर प्रदेश की एक अदालत द्वारा राहुल गांधी को तलब किए जाने पर गहलोत ने कहा कि राहुल जी पर जो लोग हमला बोल रहे हैं, उनको 2024 में महंगा पड़ेगा। मोदी जी का प्रभाव अब वो नहीं रहा जो पहले होता था। उन्होंने प्रधामंत्री नरेन्द्र मोदी के एक कथित बयान का हवाला देते हुए कटाक्ष किया, ‘‘मोदी जी ने गुजरात में (2017 के चुनाव में) कहा था कि एक मारवाड़ी मुझे हराने के लिए आया है, मैं कहां जाऊंगा, मुझे जिताओ। अब दो गुजराती राजस्थान में आ गए, अब मैं कहता हूं कि भाइयों और बहनों मैं कहां जाऊंगा, मुझे जिताओ।’’

मीडिया अब धंधा हो गया

गहलोत ने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से किसी के खिलाफ नहीं हूं। मेरा मानना है कि लोकतंत्र में कार्यक्रम, नीतियों और सिद्धांतों के आधार पर चुनाव होना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में जो हो रहा है, उसको लेकर राष्ट्रीय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को केंद्र सरकार के खिलाफ खुलकर सामने आना चाहिए। गहलोत ने दावा किया, ‘‘आज नहीं तो कल, भाजपा के समझदार लोग बगावत करेंगे। उन्हें बगावत करनी चाहिए। राजस्थान के मुख्यमंत्री ने मीडिया के हिस्से पर सवाल खड़े किए और कहा कि आज यह मिशन नहीं रहा, बल्कि ‘धंधा’ हो गया है। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ लोग को छोड़ दो तो पत्रकारिता एक पैसा कमाने का धंधा हो गया है। मिशन कुछ नहीं रहा। (कुछ लोगों ने) खुद को गुलाम बना रखा है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.