ब्राह्मण समाज की हुंकार: विधानसभा चुनाव में कांग्रेस-भाजपा से मांगे 60 टिकट, मिले CM की कुर्सी भी

Spread the love

जयपुर। जयपुर के विद्याधर नगर स्टेडियम में रविवार को ब्राह्मण समाज की महापंचायत का आयोजन किया गया। संतों व ब्राह्मण समाज सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं की मौजूदगी में इस महापंचायत से ब्राह्मण समाज का सीएम बनाने की मांग उठाई गई। वहीं आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस-भाजपा से बाह्मण समाज को 30-30 टिकट देने की मांग रखी गई। महापंचायत में केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, राज्यसभा सांसद घनश्याम तिवाड़ी, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, गोलमा देवी, सीएम ओएसडी लोकेश शर्मा से लेकर कांग्रेस सरकार में जलदाय मंत्री महेश जोशी, पूर्व चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा सहित कई नेता मौजूद रहे। महापंचायत में देशभर से काफी संख्या मेंब्राह्मण समाज के लोग पहुंचे, जिसमें महिलाएं भी शामिल रही। एक अनुमान के अनुसार लोगों की संख्या तीन से चार लाख के बीच बताई जा रही है। महापंचायत के मंच से रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भगवान परशुराम पर डाक टिकट जारी किया। इसके बाद रेल मंत्री ने कहा कि भगवान परशुराम पर डाक टिकट जारी होना ऐतिहासिक काम हैं।

ईडब्लयूएस आरक्षण 14 प्रतिशत करने की मांग

मंच से सभी नेताओं ने ईडब्लयूएस आरक्षण को 10 प्रतिशत से बढ़ाकर ओबीसी के समकक्ष 14 प्रतिशत करने की मांग रखी। वहीं पंचायती राज और केंद्र में भी राजस्थान के समक्ष ईडब्लयूएस आरक्षण को लेकर मांग रखी। वहीं सामान्य वर्ग के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं के शुल्क में छूट, आवेदन में अन्य वर्ग की तरह अंक प्रतिशत में छूट सहित कई मांगों को लेकर अपनी आवाज मुखर की। इसके साथ ही समाज के युवाओं से परम्पराओं व संस्कृति को बचाने की अपील की गई। इसके अलावा मंदिर माफी की जमीनों से कब्जा हटाने, मंदिरों पर एकाधिकार, मंदिरों से सरकार की दखलंदाजी दूर करने, पुजारियों को मासिक वेतन, मंदिरों व पुजारी पर हो रहे हमले रोकने को लेकर सरकार से हस्तक्षेप करने की मांग की गई। वहीं एससी एसटी एक्ट के प्रकरणों में धारा 41 (क) सीआरपीसी की पालना नहीं करके सीधे गिरफ़्तारी पर रोक लगाने की मांग भी रखी गई।

हिंदू रिलिजियस एक्ट की मांग

राज्यसभा सांसद घनश्याम तिवाड़ी ने भी कहा कि वक्फ बोर्ड की तर्ज पर हिंदू रिलिजियस एक्ट बनना चाहिए। ईडब्ल्यूएस आरक्षण में वह सभी लाभ मिलने चाहिए जो दूसरे आरक्षण में मिलते हैं। जितने भी सनातन धर्म के मंदिर और धर्म स्थान हैं, उन मंदिरों को सरकारी नियंत्रण में करने का अधिकार नहीं हो। जो हमारे मंदिर सरकारों के कंट्रोल में है, वे मंदिर समाज को वापस लौटाए जाएं। वहीं विप्र सेना प्रमुख सुनील तिवाड़ी ने महापंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि ब्राह्मणों का उनका हक मिलना चाहिए। उनकी लंबित मांगों को पूरा किया जाना चाहिए। महापंचायत को कांग्रेस नेता पुष्पेंद्र भारद्वाज व हरियाणा ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिरदीचंद शर्मा ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *