पाइप लाइन से जुड़ेंगे 96 लाख गैस कनेक्शन

Spread the love

राज्य में खुलेंगे 1187 सीएनजी स्टेशन
आगामी आठ साल में पूरा करने का लक्ष्य
जयपुर में गैस पाइप लाइन कनेक्शन मार्च 2023 से


जयपुर.
मुख्य मंत्री के सलाहकार डॉ. गोविन्द शर्मा ने बताया है कि प्रदेश में आगामी 8 साल में 96 लाख से अधिक पाइप लाईन से घरेलू गैस कनेक्शन उपलब्ध कराए जाएंगे। उन्होंने प्रदेश में पाइप लाईन से घरेलू गैस कनेक्शन जारी करने वाली कंपनियों से समयबद्ध रोडमेप तैयार कर लक्ष्यों को तय समय सीमा में प्राप्त करने के निर्देश दिए।
डॉ. शर्मा गुरुवार को सचिवालय में राज्य के विभिन्न शहरों में पाइप लाईन से गैस उपलब्ध कराने के लिए 20 जिलों मेे कार्यरत अधिकृत कंपनियों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार प्रदेश में पाइप लाईन से घरेलू गैस सुविधाओं के विस्तार और इसमें आ रही समस्याओंं के प्रति गंभीर है। बैठक में बताया गया कि जयपुर शहर में पाइप लाईन से घरेलू गैस के कनेक्शन की शुरुआत मार्च 2023 से की जाएगी।
डॉ. शर्मा ने बताया कि कार्ययोजना के अनुसार आगामी 8 साल में 1187 सीएनजी स्टेशनों की स्थापना की जाएगी वहीं 37824 इंच किलोमीटर गैस पाइप लाईन बिछाने का लक्ष्य है। पाइप लाईन से घरेलू गैस उपलब्ध कराना राज्य सरकार की प्राथकिमता है। इसके लिए आधारभूत ढांचा विकसित करने में आ रही बाधाओं को दूर किया जाएगा।
राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड के प्रबंध संचालक मोहन सिंह ने बताया कि राज्य में अब तक 170 से अधिक सीएनजी स्टेशन स्थापित किए जा चुके हैं। एक मोटे अनुमान के अनुसार लगभग 230 औद्योगिक व व्यावसायिक पाइप लाईन से गैस कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। एमडी मोहन सिंह ने बताया कि पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड द्वारा राज्य के सभी 33 जिलों के लिए अधिकृत कर दिया गया है। उन्होंने पीपीटी के माध्यम से विस्तार से वर्तमाान स्थिति व भावी रुपरेखा के साथ ही चुनौतियोंं की जानकारी दी।
अतिरिक्त निदेशक पेट्रोलियम अजय शर्मा ने प्रगति से अवगत कराया। बैठक मेंं आईओसीएल के ललित मंगराल, एचपीसीएल के तेजपाल सिंह, बीपीसीएल के गौरव, आईजीएल के विनोद कुमार ढाका, अडानी के अजय शर्मा, टोरेंट के एचके सिंह ने घरेलू गैस पाइप लाईन बिछाने में आ रही समस्याओं की और विस्तार से जानकारी देते हुए स्थानीय निकायों से शीघ्र स्वीकृति जारी करानेए रोडकट चार्जेज की दरों में एकरुपता लाने व स्थानीय प्रशासन से समुचित सहयोग दिलाने की आवश्यकता प्रतिपादित की। बैठक में उपसचिव आरके मक्कड, डीजीएम आरएसजीएल शैलेष सुनागर, गगनदीप राजोरिया सहित 20 कंपनियोंं के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.