मिट्‌टी खुदाई के दौरान ढाह गिरी, मां व 3 बेटियों समेत 6 की मौत

Spread the love

करौली। सपोटरा उपखंड की सिमिर ग्राम पंचायत के मेदपुरा गांव में मिट्‌टी में दबने से मां और उसकी 3 बेटियों समेत 6 की मौत हो गई। एक महिला और दो बच्चियां घायल हो गई। घायलों को जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। हादसा मिट्‌टी खोदते समय टीला ढहने से हुआ। घटना सोमवार दोपहर साढ़े 3 बजे हुई। हादसे के बाद मौके पर कोहराम मच गया। मरने वाली और घायल सभी एक ही परिवार की हैं।
हादसे के बाद मौके पर मौजूद लोगों ने मिट्टी को हटाकर 9 महिलाओं और लड़कियों को बाहर निकाला और सपोटरा अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने 5 लोगों को मृत घोषित कर दिया। वहीं चार घायलों का उपचार चल रहा है। इनमें से 2 घायलों को करौली रेफर किया गया। इस दौरान एक घायल ने रास्ते में दम तोड़ दिया, जबकि दूसरे का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। उधर, मिट्टी में और भी महिलाओं व बालिकाओं के दबे हाेने की आशंका के चलते देर शाम तक ग्रामीण मिट्टी को हटाने में जुटे रहे। देर शाम तक जब कोई नहीं मिला तो मिट्‌टी हटाने का काम रोक दिया गया।

लिपाई-पुताई के लिए लेने गई थी मिट्टी

जानकारी के अनुसार सपोटरा उपखंड की सिमिर ग्राम पंचायत के मेदपुरा गांव की 10 से ज्यादा महिलाएं और लड़कियां दीपावली से पहले घर की लिपाई-पुताई के लिए मिट्टी लेने गई थी। इस दौरान मिट्टी खोदते समय करीब 15 फीट ऊंचा टीला उन पर आ गिरा और वह दब गई। महिलाओं और लड़कियों के मिट्टी में दबते ही चीख-पुकार मच गई और बड़ी संख्या में आस-पास के लोग मौके पर जमा हो गए। ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद मलबे को हटाकर 9 महिलाओं और लड़कियों को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। हादसे की सूचना मिलते ही करौली कलेक्टर अंकित कुमार सिंह, एसपी नारायण टोगस सहित पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली। साथ ही परिजनों को सांत्वना दी।

हादसे में इनकी हुई मौत

हादसे में मिट्टी में दबने से अनिता (22) पत्नी राजेश माली, रामनरी (28) पत्नी गोपाल माली, खुशबू, कोमल और अंजू पुत्री गोपाल माली और केशंती पत्नी चिरंजी माली की मौत हो गई है।

ये हुई घायल

हादसे में रामगल्ला (25), सपना (10) पुत्री परसराम और मोनिका (4) पुत्री राजेश घायल हो गई, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.