ग्रामीण ओलंपिक में भाग ले रहे हैं 30 लाख लोग

Spread the love

खेल राज्यमंत्री ने बूंदी जिले के हिण्डोली में किया राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों का शुभारंभ

जयपुर, 13 सितंबर। युवा मामले, खेल तथा सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री अशोक चांदना ने कहा कि विश्व में राजस्थान एकमात्र ऐसा प्रदेश है, जहां ग्रामीण ओलंपिक में 30 लाख लोग उत्साह से खेल में भाग ले रहे हैं। उन्होंने कहा ग्रामीण ओलंपिक आयोजन से फिट राजस्थान हिट राजस्थान का सपना साकार होगा।

राज्यमत्री चांदना मंगलवार को भीलवाड़ा के हिण्डोली उपखण्ड मुख्यालय स्थित गणेश बावडी स्टेडियम में आयोजित राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल प्रतियोगिताओं के शुभारंभ समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।       

उन्होंने कहा कि दुनिया में इतनी बडी जन भागीदारी का खेल आयोजन आज तक कही नहीं हुआ। वर्ल्ड रिकॉर्ड ने भी यह प्रमाणित किया है। प्रदेशवासियों ने ग्रामीण ओलंपिक में बढचढ़ भागीदारी निभा कर इसे सफल बनाया है। फिट राजस्थान हिट राजस्थान की संकल्पना बेहतर स्वास्थ्य से ही पूरी होगी। गांव-गांव और शहर-शहर खेलेगा तो निश्चित रूप से फिट राजस्थान और हिट राजस्थान सपना सरकार होगा। इसके लिए हम सभी को इससे जुड़ने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विश्वास और उनकी इच्छा शक्ति से यह आयोजन सफल हो पाया है।  

चांदना ने कहा कि ग्रामीण ओलंपिक में प्रदेश के बुजुर्गों का जोश देखने को मिल रहा है। आमजन में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता में वृद्धि आई है। एक से डेढ लाख लोग इन खेलकूद प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले रहे हैं, जिनकी आयु 50 वर्ष से अधिक है। उन्होंने कहा कि यह प्रतियोगिताएं राज्य के गांव ढाणी में छिपी खेल प्रतिभाओं को आगे लाने में एक बड़ा प्रयास साबित हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य में हर वर्ष ग्रामीण ओलपिंक आयोजन होगा। इस दौरान उन्होंने राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल कूद प्रतियोगिताओं में सहयोग करने वाले भामाशाहों, दानदाताओं, बच्चों को सुविधाएं देने वाले आमजन का आभार जताया। साथ ही प्रतियोगिताओं में शामिल होने वाले सभी खिलाडियों को बधाई भी दी।      

सरकार के साथ ही लंपी वायरस की रोकथाम में आमजन बने सहयोगी 

राज्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान गौवंश में वायरस फेल रहा है। राज्य सरकार लंपी रोग की रोकथाम के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि  सरकार के साथ ही आमजन भी वायरस की रोकथाम में अपना सहयोग दें और गौवंश बचाने के लिए आगे आएं। उन्होंने कहा कि आज हमें कुदरत के प्रति जागरूक रहने की जरूरत है। उन्होंने आमजन का आव्हान किया जहां लंपी बीमारी से ग्रसित गौवंश मिले उसका घर में रखकर दवाईयां देकर उपचार करें। उन्होनंे कहा कि कि लंपी से मनुष्य संक्रमित नहीं हो रहे है यह प्रमाणित है। 

ध्वज चढाकर की शुभारंभ की घोषणा 

राज्यमंत्री चांदना ने राजीव गांधी ग्रामीण ओलपिंक खेल प्रतियोगिताओं का ध्वज चढाकर प्रतियोगिताओं के शुभारंभ की घोषणा की। इस दौरान प्रतियोगिताओं में शामिल होने वाली टीमों ने फ्लेग मार्च निकाला। इसका पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया।    

2532 खिलाडी ले रहे प्रतियोगिताओं में भाग

हिण्डोली की ब्लॉक स्तरीय राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक प्रतियोगिताओं में 236 टीमों के 2532 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इनमें 1502 पुरूष एवं 1030 महिला खिलाडी शामिल हैं। सभी खिलाडियों को खेल युनिफार्म राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई गई है। हिण्डोली के गणेश बावडी स्टेडियम में पुरूष वर्ग में कबड्डी, टेनिस बॉल क्रिकेट, हॉकी, बॉलीवाल शूटिंग बॉलीवाल तथा महिला वर्ग कबड्डी, टेनिस बॉल क्रिकेट, हॉकी, बॉलीवाल व खो-खो की प्रतियोगिता करवाई जा रही है।  

समारोह में जिला प्रमुख चन्द्रावती कंवर, जिला कलक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी, पुलिस अधीक्षक जय यादव, उपखण्ड अधिकारी हिण्डोली अमित चौधरी, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी तेज कंवर, जिला खेल अधिकारी वाईबी सिंह, विकास अधिकारी एमएल मीना, सतीश गुर्जर, सरपंच मंजू सहित जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक एवं बडी संख्या में आमजन मौजूद रहे।

नैनवां में आयोजित प्रतियोगिताओं में की शिरकत   

खेल राज्यमंत्री चांदना ने मंगलवार को नैनवां ब्लॉक के लिए नैनवां के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में आयोजित ग्रामीण ओलंपिक खेलकूद प्रतियोगिताओं में शिरकत कर खिलाडियों की हौसला अफजाई की। इस दौरान राज्यमंत्री ने खिलाडियों के साथ क्रिकेट और बॉलीवाल का लुत्फ उठाया।      

योजनाओं और कल्याणकारी कार्यक्रमों का आमजन को मिले त्वरित लाभ

युवा मामले, खेल तथा सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री अशोक चांदना ने मंगलवार को बूंदी जिला कलेक्ट्रेट कलेक्ट्रेट सभागार में अतिवृष्टि से उत्पन्न परिस्थितियों, पशुओं में लम्बी रोग, चम्बल पेयजल परियोजनाओं, निर्माणाधीन महाविद्यालयों की प्रगति की समीक्षा बैठक लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।     

बैठक में राज्यमंत्री ने निर्देश दिए कि हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में संचालित महाविद्यालयों के निर्माण कार्यों को और अधिक गति प्रदान की जावे, ताकि समय पर विद्यार्थियों को इनका लाभ मिल सके। जिले के आमजन को राज्य सरकार की योजनाओं तथा कल्याणकारी कार्यक्रमों का त्वरित लाभ मिलेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रतिमाह मुख्यमंत्री की बजट घोषणा तथा राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत परियोजनाओं की नियमित बैठकें आयोजित की जावे।       

राज्यमंत्री ने हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में संचालित चम्बल पेयजल परियोजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि एक माह में जाखोली लाईन में फोरेस्ट के मामले का समाधान सुनिश्चित किया जावे। उन्होंने निर्देश दिए कि जिन स्थानों पर चम्बल परियोजना के तहत पहले पानी पहुंचता है, वहां टंकियों के निर्माण का कार्य प्राथमिकता से पूरा करवाया जावे।

मंत्री चांदना ने जिले में लंपी रोग की रोकथाम के लिए किए जा रहे उपायों की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि गौवंश में लंपी संक्रमण होने पर ऐसे गौवंश के लिए अस्थाई जगह रखी जावे, ताकि वहां ऐसे गौवंश को आईसोलेट किया जा सके। इसके अलावा लंपी संक्रमण से बचाव के लिए स्थानीय स्तर पर आमजन का सहयोग लिया जावे। उन्होंने निर्देश दिए कि जिले में अतिवृष्टि से हुए फसल खराबे का किसानों को पूरा मुआवजा मिले और कोई भी किसान  इससे वंचित नहीं रहे। उन्होंने निर्देश दिए कि मुआवजे के लिए की जाने वाली सभी प्रक्रिया प्राथमिकता के साथ जल्द पूरी की जावे।       

बैठक में जिला प्रमुख चन्द्रावती कवंर, जिला कलक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी सहित अधिकारी मौजूद थे।  

    

Leave a Reply

Your email address will not be published.