भरतपुर में Mega Job Fair: 10 हजार युवाओें को मिलेगा रोजगार

Spread the love

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार युवाओं के सपने साकार करने के लिए उचित अवसर उपलब्ध कराने को प्रतिबद्ध है। आज देश में महंगाई और बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्याएं हैं। राज्य सरकार युवाओं और छात्रों को केन्द्र में रखकर नीतियां बना रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आयोजित हो रहे जॉब फेयर में युवा पूरे उत्साह के साथ भाग ले रहे हैं तथा उन्हें रोजगार के नए अवसर मिल रहे हैं।
गहलोत गुरुवार को भरतपुर में मेगा जॉब फेयर के शुभारंभ समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने युवाओं से संवाद किया एवं रोजगार प्राप्त करने वाले युवाओं को ऑफर लैटर प्रदान किए। उन्होंने कहा कि युवाओं में आत्मविश्वास और साक्षात्कार दक्षता बढ़ाने के साथ निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए ऐसे जॉब फेयर अब हर जिले में आयोजित कराए जा रहे हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के लाभार्थियों को चेक प्रदान किए।

मिल रहे बड़े स्तर पर रोजगार के अवसर

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान देश में युवाओं को निजी और सरकारी क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध करवाने वाला अग्रणी राज्य है। राज्य सरकार द्वारा सरकारी नौकरियां देने के साथ निजी क्षेत्र में भी बड़े स्तर पर रोजगार के अवसर सृजित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब उपखण्ड स्तर पर भी रीको औद्योगिक क्षेत्र स्थापित किए जा रहे हैं। इससे युवाओं को स्थानीय स्तर पर ही रोजगार मिल सकेंगे। राज्य सरकार की नीतियों से प्रदेश में निवेश के लिए अनुकूल माहौल बना है। नए एमएसएमई कानून के माध्यम से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। इससे नए उद्यमियों को ब्याज-मुक्त ऋण मिल रहा है। इन सुविधाओं के चलते राजस्थान निवेशकों का मुख्य आकर्षण बन चुका है। उन्होंने कहा कि हाल ही में आयोजित इन्वेस्ट राजस्थान समिट में 11 लाख करोड़ रुपए के एमओयू हुए हैं। इनसे लगभग 10 लाख रोजगार उत्पन्न होने की संभावना है।

सीएम से मिले शहीद के परिजन, जताया आभार

गहलोत ने कहा कि शहीदों के परिवार की सुरक्षा और उनका सम्मान हमारी जिम्मेदारी है। शहीद सैनिकों की वीरांगनाओं, भूतपूर्व सैनिकों तथा उनके आश्रितों के कल्याण के लिए राज्य सरकार द्वारा सदैव संवेदनशीलता के साथ काम किया गया है तथा उन्हें नियमानुसार सहायता पहुंचाई गई है। उन्होंने कहा कि कारगिल पैकेज की तरह पुलवामा आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों की वीरांगनाओं को भी नियमानुसार सहायता दी गई। उल्लेखनीय है कि गुरुवार को भरतपुर दौरे के दौरान सुन्दरवाली गांव के शहीद कॉन्स्टेबल जीतराम गुर्जर की पत्नी वीरांगना सुन्दरी देवी और परिवारजन मुख्यमंत्री से मिले। उन्होंने राजकीय महाविद्यालय, नगर (भरतपुर) का नामकरण ‘शहीद जीतराम राजकीय महाविद्यालय, नगर (भरतपुर) करने पर आभार जताया।

1300 युवाओं को सौंपे ऑफर लेटर

भरतपुर में आयोजित इस राजस्थान मेगा जॉब फेयर में 60 से अधिक नियोक्ता संस्थान भाग ले रहे हैं। इससे 10 हजार से अधिक युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। जॉब फेयर में हजारों युवाओं ने पंजीकरण करवाया तथा प्रथम पारी में ही 1300 से अधिक युवाओं को मौके पर जॉब ऑफर लेटर सौंपे गए। मुख्यमंत्री ने नियोक्ता संस्थाओं की स्टाल्स का अवलोकन किया तथा वहां उपस्थित अभ्यर्थियों के साथ संवाद किया। उन्होंने नियोक्ता कम्पनियों के प्रतिनिधियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। युवाओं ने जॉब फेयर के आयोजन के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया। कार्यक्रम में कौशल, नियोजन एवं उद्यमिता राज्य मंत्री अशोक चांदना, पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, पंचायतीराज मंत्री रमेश मीणा, सार्वजनिक निर्माण मंत्री भजनलाल जाटव, देवनारायण बोर्ड अध्यक्ष जोगिन्दर सिंह अवाना भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *