संत समाज से ही हो देवस्थान विभाग का चेयरमैन, विप्र कल्याण बोर्ड का जल्द हो गठन

Spread the love

जयपुर। पिंक सिटी प्रेस क्लब जयपुर में सोमवार को संत समाज एवं विप्र महासभा के संयुक्त तत्वाधान में पत्रकार वार्ता का आयोजन हुआ। पत्रकार वार्ता की अध्यक्षता करते हुए संत समाज के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं रघुनाथ धाम के पीठाधीश्वर आचार्य स्वामी सौरभ राघवेंद्र महाराज ने बताया कि कई वर्षों से देवस्थान विभाग पर राजनीति से जुड़े व्यक्ति को ही देवस्थान विभाग का चेयरमैन राज्य मंत्री बनाया जाता रहा, लेकिन फिर भी देवस्थान विभाग के कार्य क्षेत्र में कोई उन्नति नहीं हुई है। संत समाज से यही मांग है कि देवस्थान विभाग का चेयरमैन राज्य मंत्री केवल सन्त समाज से ही हो, ताकि देवस्थान संबंधित कार्य बहुत ही उचित तरीके से हो सके।
पत्रकार वार्ता के दौरान स्वामी सौरभ राघवेंद्र आचार्य ने कहा कि आर्थिक रूप से पिछड़ा ब्राह्मण वर्ग आज सबसे ज्यादा संघर्ष कर रहा है। शिक्षा, आवास और व्यवसाय के साथ नौकरियों में भी इस वर्ग को समान अवसर नहीं नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में राजस्थान सरकार के द्वारा तुरंत प्रभाव से विप्र कल्याण बोर्ड का गठन कर समाज के जरूरतमंद वर्ग को सभी प्रकार की सहायता मुहैया कराई जाए।

विप्र कल्याण बोर्ड के गठन को लेकर 22 मार्च को जयपुर में आक्रोश रैली


पत्रकार वार्ता में विप्र महासभा की ओर से संस्था के प्रदेशाध्यक्ष सुनील उदेईया ने कहा कि विप्र कल्याण बोर्ड के गठन, ईडब्ल्यूएस केटेगिरी में छूट व अन्य मांगों को लेकर 22 मार्च को दोपहर 2 बजे रेलवे स्टेशन स्थित परशुराम सर्किल से मुख्यमंत्री निवास तक राज्य सरकार को चेताने के लिए ब्राह्मण एवं संतजन आक्रोश रैली निकालेंगे। इस दौरान विप्र महासभा के संरक्षक नटवरलाल शर्मा, ज्योतिषाचार्य घनश्याम शर्मा व हर्षिता शर्मा, मैमुना नरगिस, डॉ. सोमेंद्र सारस्वत समेत कई वरिष्ठ पदाधिकारी व सदस्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.