ब्यावर गोमती फोरलेन का कार्य जल्द होगा शुरू

Spread the love

राजसमंद सांसद दियाकुमारी ने दी जानकारी


राजसमन्द.
काफी समय से रूका हुआ ब्यावर गोमती फोरलेन सडक़ का कार्य एक माह में शुरू हो जाएगा। सांसद दियाकुमारी ने यह जानकारी देते हुए केंद्र के कार्यों को कांगे्रस की ओर से अपना बताए जाने पर भी व्यंग्य किया है।
राजसमंद सांसद दीयाकुमारी ने कांग्रेस विधायक द्वारा केंद्र के कार्यों को अपना बताए जाने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे राज्य सरकार से विकास कार्य करवाएं फिर जनता के मध्य जाए क्योंकि झूठ के पुलिंदे ज्यादा दिन तक नहीं चलते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी केंद्र द्वारा स्वीकृत जल जीवन मिशन योजना में भी वे ऐसा ही कर चुके हैं।
सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि ब्यावर- गोमती फोरलेन परियोजना की भगाना से मादा की बस्सी 14 किलोमीटर सडक़ जो कि वन क्षेत्र में थी अब इसकी भी 118.03 करोड़ की स्वीकृति केंद्र सरकार द्वारा जारी कर दी गई है। जिसका श्रेय लेने की कोशिश कांग्रेस विधायक द्वारा की जा रही है जो आश्चर्यजनक है।
सांसद दियाकुमारी ने आरोप लगाया कि ब्यावर गोमती राजमार्ग का फोरलेन कार्य 2010 में पूरा हो जाना चाहिए था लेकिन तत्कालीन कांगे्रस सरकार ने उस कार्य को अटका दिया। जिसका खामियाजा सैंकडों दुर्घटनाओं में हजारों लोगों की जाने चली गई। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 पर 58.24 किलोमीटर से 177 किलोमीटर तक गोमती ब्यावर खंड का कार्य 2 मार्च 2009 को शुरू हुआ। कुल 116 किलोमीटर वन क्षेत्र के 14 किलोमीटर को छोडकऱ पूर्ण होने की तिथि 24 अगस्त 2010 थी। भूमि का अधिग्रहण न होने के कारण कार्य 17 अप्रैल 2013 को शुरू हुआ और लगभग 22 किलोमीटर पूरा होने के बाद ठेकेदार ने 26 अप्रैल 2015 को काम बंद कर दिया। तब से काम रूका हुआ है। ठेकेदार कम्पनी के दिवालिया हो जाने के कारण कार्य रूक गया और ऋण प्रदान करने वाले बैंकों ने पैसे वापस मांगे।

जल्द शुरू होगा कार्य

राजसमंद सांसद दीयाकुमारी के प्रयासों के बाद मोर्थ ने 2019 में कई बैठकें की तथा बैंको के समुह के 144 करोड़ की राशि का एकमुश्त भुगतान किया गया। 25 फरवरी 2020 को इस परियोजना को एनएचआई को वापस सौंप दिया गया। इसके पश्चात् केन्द्रीय सचिव एनएचआई की अध्यक्षता में वित्तीय समिति की बैठक 18 मई 2020 को हुई। उसमें इस परियोजना को दो भागों में 721.06 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति दी गई। 320 करोड़ की लागत से 50.355 किलोमीटर और 341 करोड़ की लागत से 50.285 किलोमीटर दोनो कार्यों की निविदा प्रक्रिया पूर्ण हो गयी हैं। कार्य करने वाली कम्पनी भी चयनित हो गयी हैं तथा कार्यादेश हो रहे हैं। यह कार्य लगभग 30 दिवस में चालू हो जाएगा।
भगाना से मादा की बस्सी 14 किलोमीटर सडक़ जो कि वन क्षेत्र में थी इसकी स्वीकृति 118.03 करोड़ रूपए जारी की गई है। अब टेंडर हो चुके है जिसकी बिड अब खुलनी बाकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.