फर्जी आईपीएस: विधायक से भी ठग लिए थे दो लाख रुपए

Spread the love

अजमेर। पुलिस ने एक फर्जी आईपीएस को गिरफ्तार किया है, जो आईपीएस अधिकारी बन लोगों को फोन पर धमकाकर रुपए ऐंठता था। वह वर्ष 2016 में विधायक चंद्रकांता मेघवाल से भी दो लाख रुपए ऐंठ चुका है।
पुलिस के अनुसार दो मार्च को किशनगढ़ निवासी पाबूराम जाट ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि एक व्यक्ति खुद को आईपीएस क्राइम ब्रांच बताकर कॉल कर रहा है तथा रूपए देने के लिए दबाव बना रहा है। इसके बाद पुलिस ने टीम गठित कर आरोपी के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस कर शिवा उर्फ गुड्डू छीपा निवासी किशनपुरा, कोटा को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह दूसरे के नाम से सिम लेकर लोगों आईपीएस राजवीर सिंह दिल्ली क्राइम ब्रांच के नाम से फोन कर रुपए देने के लिए धमकाता था। उसने बताया कि वर्ष 2016 में विधायक चंद्रकांता मेघवाल से भी दो लाख रुपए ठग लिए थे। उसने उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पांच लाख रुपए ऐंठने, कानपुर में 4 लाख, आगरा में 30 लाख सहित अन्य कई जगह रुपए निकलवाने सहित ठगी की कई वारदातों का अंजाम दिया है। आरोपी ने बताया कि कोटा के नयापुरा थाने में फोन कर एक बार उसने खुद के मुकदमे का रिकॉर्ड भी मंगवाया था।
आरोपी ने बताया कि पाबूराम ने खुद के रिश्तेदार से टाइल्स की गाड़ी मंगवाई थी, जिसके छह लाख 70 रुपए नहीं दिए थे। इसके लिए मैंने अजमेर में गांधी नगर के थानाधिकारी को पैसे निकलवाने के लिए बोला। बाद में हैड कांस्टेबल ने पाबूराम से बात की तो उसने दस दिन में पैसे देने की बात कही, लेकिन दस दिन बाद वह पैसे देने में आनाकानी करने लगा। तब मैंने उसको धमकाकर सिम बंद कर थी। पुलिस ने बताया कि अभी इससे और वारदातें भी खुल सकती हैं।

About newsray24

Check Also

हारित भवन में डांडिया आज से

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. श्री हरियाणा गौड़ ब्राह्मण पंचायत संस्था युवासंघ मदनगंज के सचिव …

Leave a Reply

Your email address will not be published.