पुजारी के हत्यारों को शीघ्र किया जाए गिरफ्तार

Spread the love

भगवा हिंदू क्रांति दल ने सीएम को भेजा पत्र

श्याम सुंदर वैष्णव

मदनगंज-किशनगढ़। दौसा जिले के महुवा थानांतर्गत टीकरी जाफरान गांव में मंदिर महंत की हत्या पर भगवा हिंदू क्रांति दल ने रोष जाहिर किया है। दल का आरोप है कि 3 अप्रेल को भूमाफिया ने बेशकीमती मंदिर भूमि को हड़पन के इरादे से टीकरी जाफरान गांव के राधा कृष्ण मंदिर के महंत शंभूलाल शर्मा की हत्या कर दी।
क्रांति दल राजस्थान प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष श्याम सुंदर वैष्णव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राधेश्याम शर्मा, प्रदेश महामंत्री मनोहरलाल शर्मा, प्रदेश मिडिया प्रभारी व प्रवक्ता गिरधारी लाल किलावत, प्रदेश महासचिव माणकचंद बंजारा, प्रदेश संगठन मंत्री अनिल कुमार शर्मा, महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष गायत्री बैरागी ने संयुक्त बयान जारी कर व राजस्थान के मुख्यमंत्री व गृह मंत्री अशोक गहलोत को पत्र भेजकर महंत के हत्यारों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की है। पत्र में दल ने आए दिन सनातन संस्कृति व पुजारियों पर हो रहे हमलों व हत्याओं पर गहरा रोष व्यक्त करते हुए पुजारी की संदिग्ध हालात में की गई हत्या की कड़ी आलोचना करते हुए दोषियों को गिरफ्तार कर सजा देने की मांग की है। मंदिर की भूमि पर कब्जे को लेकर पुजारी व कब्जाधारियों का मुकदमा अभी भी एक न्यायालय में विचाराधीन है और इसी बीच मंदिर महंत की संदिग्ध परिस्थितियों में हत्या कर दी गई। इस बात को लेकर दौसा जिले के सर्व ब्राह्मण समाज में भी गहरा रोष व्याप्त हैं।

दस माह पहले करौली में पुजारी की हत्या

विदित रहे की 10 माह पहले भी करौली जिले में मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव की नृशंस हत्या कर दी गई थी एवं पुजारी को जिंदा जला दिया गया था। आए दिन ऐसी नृशंस हत्याओं से राजस्थान का पुजारी समाज भी डरा व सहमा हुआ है। भगवा हिंदू क्रांतिदल राजस्थान संगठन ने शंभुलाल शर्मा के हत्यारों को तुरंत गिरफ्तार कर सजा देने की मांग की है एवं हत्यारों के विरुद्ध फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामला चलाने की अपील की है।
मंदिर महंत के परिजनों को ब्राह्मण विप्र सेना ने 51000 रुपए की मदद देना की घोषणा की है।

About newsray24

Check Also

लायंस क्लब के शिविर में 280 रोगियों की नेत्र जांच

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. लायन्स क्लब किशनगढ़ क्लासिक के तत्वावधान में जिला अंधता निवारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published.