पारंपरिक तरीके से मनाई होली

Spread the love

कोरोना के चलते धूमधाम में आई कमी
कई स्थानों पर विभिन्न आयोजन

जयपुर। अजमेर जिले के मदनगंज किशनगढ़ में होली पारंपरिक तरीके से मनाई गई। रविवार को लोगों ने पूजन कर होलिका दहन किया। सोमवार को धूलंडी पर्व मनाया गया। हालांकि कोरोना के चलते धूमधाम में कमी आई। बहुत से लोगों ने अपने घर पर ही रहकर होली मनाई।

बोहरा जी की सवारी निकाली

पुराना शहर शिव नवयुवक मंडल धानमंडी के तत्वाधान में बोहरा जी की सवारी मंदिर से निकालकर मंदिर के बाहर ही स्थापित की गई। मंडल अध्यक्ष बिशनलाल सोनी ने बताया कि सरकारी गाइड लाइन के अनुसार बोहरा जी को नगर भ्रमण कराया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि किशनगढ़ नगरपरिषद सभापति दिनेश सिंह राठौड़, विशिष्ट अतिथि परमेंद्र जोशी ने बोहरा जी को माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरूआत की। इस अवसर पर पार्षद तानसेन हाड़ा, नारायण सिंह खंगारोत, अजीत भंडारी, धर्मेंद्र सोनी, ज्ञानचंद सोनी, दिनेश सोनी, लक्ष्मण सोनी, सुनील मेहता, राजेंद्र काकड़ा आदि ने ठंडाई का वितरण किया।
सिटी रोड स्थित आर्यसमाज में पंडित दिलीप कुमार ने यज्ञ संपन्न करवाया। प्रभुलाल कुमावत ने होली के वैदिक महत्व को बताया कि भारत कृषि प्रधान देश है यहां के पर्वों का सृजन भी प्रकृति के अनुसार किया है। नई फसल का आगमन और पेड़ों पर नए नए फूल-पत्तियों कोपलों के आने से सारे वातावरण में एक उल्लास उमंग और भगवान के प्रति कृतज्ञता का भाव पैदा होता है।
होली एक बड़ा यज्ञ ही है जिसमें फसलों की पहली आहुति अग्नि में देकर हम प्रसाद रूप में अन्न ग्रहण करते हैं। रंग बिरंगे फूलों से बनी गुलाल से प्रेम व्यवहार को प्रकट करते हैं। इस आयोजन में सरोज मालू, मंजू नीरज आर्य और रामकुमार शर्मा ने होली के गीतों के साथ सभी को फूल होली खिलवाया। दिनेश मालू ने बताया कि जल्द ही आर्यसमाज की ओर से यज्ञ चिकित्सा एवम् यज्ञ प्रशिक्षण दिया जाएगा।
कार्यक्रम में भारत स्वाभिमान प्रभारी किशनगढ़ तहसील के गिरधारी अमरवानी, दीपक छीपा, महेश मुन्दड़ा, बालाजी बगीची योग प्रशिक्षिका डिंपल अग्रवाल, महिला प्रभारी सरोज शर्मा, सीमा वाष्र्णेय, अंजू दोषी, रेखा अग्रवाल, संगीता अग्रवाल, मन्जू मून्दड़ा आदि कई लोग मौजूद रहे।

पर्यावरण शुद्धि व कोरोना निवारण की प्रार्थना

मित्र निवास कालोनी मे कोरोना के कारण गाय के गोबर से बने कंडे, कपूर, लोंग, गुग्गल एवं देशी घी डालकर होलिका दहन किया गया। पर्यावरण शुद्धि व कोरोना निवारण की प्रार्थना की गई। इस अवसर पर एडवोकेट विजय पारीक, दिवाकर दाधीच, लोकेश जोशी, विशाल शर्मा, महेश साधवानी, अमर करथला, प्रदीप चंदानी, गुड्डू कुमावत, राकेश शर्मा, अनिल पलोड सहित कालोनी के निवासियों ने कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए गुलाल अबीर लगाकर एक दूसरे को होली की शुभकामनाएं दी।
सिंधी समाज की ओर से मनाई होली में कार्यक्रम की अध्यक्षता विष्णू मेघानी, पिशुभाई मुलानी, मनोहर लाल, मनोज किशनानी एवं किशन चन्दी रामानी ने की। आगामी चेटीचंड महोत्सव की तैयारियों पर चर्चा की गई। संघ सचिव गिरधारी अमरवानी ने कार्यक्रम का मंच संचालन किया। संघ अध्यक्ष मोहन चन्दी रामानी ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर करण मेघानी, मुकेश मेघानी, विजय गुरनानी, राम भाई नानवानी, विजय अमरवानी, महेश मघनानी, मुरली जसवानी, राहुल आडवाणी, राहुल देवलानी, सोनू गोपलानी, नरेंद्र खट्वानी आदि शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.