पश्चिमी बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग

Spread the love

मदनगंज किशनगढ़। भगवा हिंदू क्रांति दल राजस्थान ने पश्चिमी बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है। दल के प्रदेश अध्यक्ष श्यामसुंदर वैष्णव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राधेश्याम शर्मा, प्रदेश महामंत्री मनोहर लाल शर्मा, महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष गायत्री बैरागी, प्रदेश प्रवक्ता गिरधारी लाल किलावत, महासचिव माणकचन्द बंजारा, संगठन मंत्री अनिल शर्मा ने संयुक्त बयान जारी कर पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हुई हिंसा में मारे गए हिंदू महिला पुरुषों की नृशंस हत्या की कड़े शब्दों में निन्दा की है। देश के राष्ट्रपति को लिखे गए पत्र में नव सत्तारूढ़ दल की राजनीतिक मान्यता समाप्त कर मुख्यमंत्री सहित सभी पर हत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कर राज्य में अनुच्छेद 356 लगाने की मांग की है।
भगवा हिंदू क्रांति दल ने पत्र में टीएमसी के कार्यकर्ताओं द्वारा हिन्दू विचारधारा के लोगों को घर से निकाल कर कातिलाना हमला कर सरेआम मारने की बात कही है एवं हिंदू महिलाओं पर सरेआम कातिलाना हमला कर मारने का आरोप लगाया है। हिंदू परिवारों को निशाना बनाकर लगभग 14 लोगों की हत्या कर दी है। तुष्टिकरण की गंदी राजनीति के चलते टीएमसी को वोट नहीं देने वाले हिन्दू परिवारों पर कई जगह जानलेवा हमले भी हुए हैं एवं कड़े शब्दों में एक राष्ट्रीय राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी के कार्यालयों को जलाने की भी निंदा की है। राज्य की नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भडक़ाऊ भाषण देकर हिंदू परिवारों को बेघर करने का दोषी मानते हुए तुरंत प्रभाव से बंगाल सरकार को भंग कर राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।

About newsray24

Check Also

हारित भवन में डांडिया आज से

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. श्री हरियाणा गौड़ ब्राह्मण पंचायत संस्था युवासंघ मदनगंज के सचिव …

Leave a Reply

Your email address will not be published.