नरगिस का नाम यूनिक रिकॉर्ड में दर्ज

Spread the love

धरोहर संरक्षण के लिए किया कार्य
जयपुर।
कला संरक्षक मैमूना नरगिस का स्टार रिकॉर्ड बुक ऑफ इंटरनेशनल में यूनिक रिकॉर्ड 2021 में नाम दर्ज किया गया है। जयपुर की प्रसिद्ध कला संरक्षक एवं रघुनाथ धाम धर्मार्थ सेवा संस्थान की कला संयोजिका मैंमूना नरगिस का पुरातात्विक कला संरक्षण कार्यों के लिए स्टार रिकॉर्ड बुक ऑफ इंटरनेशनल में यूनिक रिकॉर्ड 2021 के प्रथम संस्करण में नाम दर्ज किया गया है। मैंमूना नरगिस कला संरक्षण कार्यों में राजस्थान में जयपुर से सबसे प्रथम हैं जिन्हें ये स्थान मिला है। कला कृतियों एवं पुरातत्व वस्तुओं का संरक्षण, पुनरुद्धार सहित उल्लेखनीय कार्य करने पर रिकॉर्ड बुक ऑफ इंटरनेशनल रिकॉर्ड बुक 2021 में प्रथम संस्करण में नाम दर्ज हुआ है। मैंमूना नरगिस ने कई पुरातत्व विभाग के महलों, किलों, संग्रहालयों का जीर्णोद्धार किया है। संग्रहालयों में रखी अनमोल धरोहर 18वीं से 6 शताब्दी का संरक्षण किया है। वर्तमान में मैमूना नरगिस रघुनाथ धाम धर्मार्थ सेवा संस्थान के कला संयोजिका पद पर नियुक्त हैं और धर्म और पुरातात्विक कला के क्षेत्र में कार्यरत है। गौरतलब है कि मैमूना नरगिस ने कुछ समय पहले कोटा संग्रहालय में रखी 450 साल पुरानी गीता का दोबारा संरक्षण किया था तथा कुछ दिनों पहले मुम्बई एयरपोर्ट पर सजी हुई पुरानी कला कृतियों एवं चित्रकलाओं का संरक्षण किया है।

थाईलैंड से आई कॉलगर्ल की कोरोना से मौत

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी इंटरनेशनल सेक्स रैकेट अपने पांव पसार रहा है। इसका खुलासा तब हुआ जब राजधानी के एक रईसजादे द्वारा थाईलैंड से लखनऊ बुलाई गई एक कॉलगर्ल की कोरोना से मौत हो गई। कॉलगर्ल को तबियत खराब होने पर उसे डॉक्टर राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था. फिलहाल पुलिस इस मामले में जांच में जुट गई है।

पुलिस के मुताबिक राजधानी के एक प्रतिष्ठित व्यवसाई के बेटे ने एजेंट सलमान के जरिए मृत्यु के 10 दिन पूर्व कॉलगर्ल को सात लाख रुपये खर्च करके थाईलैंड से लखनऊ बुलाया था. बीते 31 मार्च की रात अचानक कॉल गर्ल की तबीयत खराब हुई तब उसे विभूतिखंड स्थित डॉक्टर राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

About newsray24

Check Also

लायंस क्लब के शिविर में 280 रोगियों की नेत्र जांच

Spread the love मदनगंज किशनगढ़. लायन्स क्लब किशनगढ़ क्लासिक के तत्वावधान में जिला अंधता निवारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published.