धांधा बांटेंगे गांवों में मास्क और सेनेटाइजर

Spread the love

रैदासपुत संगठन भी करेगा सहयोग


मदनगंज-किशनगढ़.
युवा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता रामावतार धांधा कोरोना के गांवों में बढ़ते प्रकोप को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में मास्क तथा सैनिटाइजर स्वयं के स्तर पर वितरित करेंगे। धांधा ने बताया की युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. तथा प्रदेशाध्यक्ष गणेश घोघरा जिस तरह से कोरोना काल में दिनरात लोगों की सेवा करने में तत्पर है सम्पूर्ण देश के युवाओ के लिए प्रेरणास्रोत्त है आज युवा कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता आपदा के इस दौर में इंसानियत का फर्ज अदा कर पूरे प्रयासों से लोगों को बचाने में जुटा हुआ है। धांधा ने बताया कि ग्रामीण इलाकों में जिस तरह से कोरोना ने पाँव पसारे हैए इससे गांवो में स्थिति काफी चिंताजनक है इसलिए वो गांवो में अपनी टीम के साथ शुरूआती स्तर पर 2000 मास्क तथा 500 सैनिटाइजर और 100 एन95 मास्क वितरित करेंगे। साथ ही मुख्यमंत्री चिरंजीवी बीमा योजना के बारे में भी ग्रामीणों को जागरूक करते हुए अधिक से अधिक ग्रामीणों को इससे जोडऩे का प्रयास करेंगे। उनके इस अभियान में रैदासपुत युवा पॉवर संगठन के अध्यक्ष दीपक परसोया भी अपने संगठन के कार्यकर्ताओ के साथ सहयोग करेंगे। इसके अलावा धांधा ने बताया की कांग्रेस पार्टी के कैडर से जुड़े प्रत्येक कार्यकत्र्ता ने देश पर आये हुए हर संकट के समय में देशवासियों की सेवा की है। आज भी पार्टी का हर कार्यकर्ता आम जन के साथ खड़ा है एवं उन्होंने विश्वास दिलाया कि संकट के इस समय में आमजन के सहयोग से कोरोना को मात देकर जल्द ही राहत भरा सूर्योदय उदय होगा।

हिंदी में कार्य पर किया संतोष व्यक्त
जयपुर.
उत्तर पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आनंद प्रकाश की अध्यक्षता में उत्तर पश्चिम रेलवे प्रधान कार्यालय में क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति की वर्चुअल बैठक सम्पन्न हुई। बैठक के दौरान जीएम ने सरकारी कामकाज में राजभाषा के और अधिक प्रयोग पर बल दिया। बैठक में उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रमुख विभागाध्यक्ष, मण्डल रेल प्रबन्धक, अपर मण्डल रेल प्रबन्धक एवं वरिष्ठ राजभाषा अधिकारियों ने वीडियो कॉन्फे्रसिंग के माध्यम से भाग लिया।
उत्तर पश्चिम पश्चिम रेलवे के उपमहाप्रबन्धक (सामान्य)/मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शशि किरण के अनुसार जीएम आनन्द प्रकाश ने कहा कि हिंदी हमारी मातृभाषा है और हमारा नैतिक दायित्व है कि हम सरकारी कामकाज में हिंदी के प्रयोग को स्वाभाविक रूप से बढावा दें। महाप्रबन्धक ने ई-ऑफिस पर हिंदी के प्रयोग को बढ़ाने पर बल दिया तथा रेलवे की वेबसाईट को द्विभाषीकरण कर निरंतर अपडेट करने के लिए निर्देषित किया। महाप्रबन्धक महोदय ने रेलवे बोर्ड द्वारा निर्धारित कार्य सूची पर भी चर्चा की तथा 31 मार्च, 2021 को समाप्त हुए तिमाही प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा भी की। उन्होंने उत्तर पष्चिम रेलवे पर हिंदी में किये जा रहे कार्यों पर संतोष व्यक्त किया। साथ ही इसे और बढ़ाने पर बल दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *