दुनिया का सबसे जहरीला सांप, काटने के 10 मिनट में मर जाता है आदमी

Spread the love

दुनिया के सबसे जहरीले सांप गोल्डन लांसहैड ब्राजील के शहर साओ पाउलो से 144 किलोमीटर दूर अटलांटिक महासागर में स्थित द्वीप इल्हा दे क्वेइमाडा ग्रेंड आइलैंड पर पाए जाते हैं। एक सौ दस एकड़ में फैले इस द्वीप पर चार हजार से भी अधिक सांप पाए जाते हैं। इस द्वीप को दुनिया के सबसे जहरीले सांपों का घर कहा जाता है। ये सांप इतने जहरीले होते हैं इनके काटने के दस से 15 मिनट में आदमी की मौत हो जाती है। इनका जहर इतना तीव्र होता है कि यह मनुष्य के शरीर के मांस तक को गला देता है। इसी खतरे को देखते हुए यहां मनुष्यों के साथ किसी भी जीव का जाना प्रतिबंधित है और अगर कोई गलती से चला गया तो उसका बचना नामुमकिन है।

सांपों के द्वीप पर नौसेना का पहरा

जीव विज्ञानी मार्सेलो दुआर्ते ने 20 से अधिक आर इस आइलैंड का दौर किया है। उनका कहना है कि इस आइलैंड पर सांपों की संख्या इतनी अधिक है कि हर एक वर्ग मीटर पर पांच सांप रहते हैं। इन सांपों की गिनती दुनिया के सबसे जहरीले सांपों में की जाती है।यह सांप इतने जहरीले होते हैं कि अगर ये किसी को काट ले तो आदमी दस से पन्द्रह मिनट में मर जाता है।
जीव विज्ञानी भी इस बात को मानते है कि गोल्डन लांसहेड सांप सबसे जहरीले होते हैं। इसलिए ब्राजील सरकार ने पूरी तरह से इस द्वीप पर आने-जाने पर पाबंदी लगा दी है और नौसेना इस द्वीप के चारों ओर गश्त लगाती है। इस द्वीप पर सरकार की इजाज़त से सिर्फ़ चयनित जीव शोधकर्ता ही जा सकते हैं।

बहुतायत में है इस द्वीप पर केले के पेड़

स्थानीय लोगों के अनुसार यह आइलैंड शुरू में ऐसा नहीं था। यहां पर सांप बहुत कम पाए जाते थे। इल्हा दे क्वेइमाडा ग्रेंड आइलैंड के तट के पास लाइट हाउस बना हुआ है जो कि ब्राजील की नौसेना ने 1909 में बनवाया था। जहाजों को यह द्वीप दूर से नजर आ जाए, इसके लिए यहां पर यह लाइट हाउस बनवाया गया था। इस लाइट हाउस में नौसेना का एक कर्मचारी काम किया करता था। इस आइलैंड में वह कर्मचारी अपनी पत्नी व तीन बच्चों के साथ रहता था। इस आइलैंड पर धीरे धीरे सांपों की तादाद बढऩे लगी और सांप लाइट हाउस तक पहुंच गए। इस लाइट हाउस में रहने वाला कर्मचारी व उसका परिवार 1920 में इन सांपों का शिकार हो गए और मर गए । सांपों के काटने से उनका शरीर काला पड़ गया था। बाद में इस लाइट हाउस को पूरी तरह स्वचालित कर दिया गया।
इस आइलैंड से जुड़ी एक घटना के अनुसार यहां केले के पेड़ बहुत हैं। एक बार एक व्यक्ति अपने साथियों के मना करने के बावजूद केले लेने इस आइलैंड पर चला गया और सांपों के काटने के कारण उसकी मौत हो गई थी।

About newsray24

Check Also

Africa: दस साल बढ़ी अफ्रीका के लोगों की उम्र, अब जाकर 56 साल जी पाएंगे

Spread the love जोहान्सबर्ग (अफ्रीका)। पिछले दस सालों में अफ्रीका महाद्वीप के लोगों की उम्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published.