डीआरएम कार्यालय को मिली प्लेटिनम रेटिंग

Spread the love


जयपुर.
उत्तर पश्चिम रेलवे जयपुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय भवन को इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (आईजीबीसी) द्वारा प्लेटिनम रेटिंग प्रदान की गई है। मंडल रेल प्रबंधक मंजूषा जैन के नेतृत्व में जयपुर मंडल ने पिछले दो वर्ष में आईजीबीसी द्वारा तीन प्लेटिनम रेटिंग प्राप्त कर कुल तीन साल में चार प्लेटिनम रेटिंग प्राप्त करने वाला भारतीय रेलवे का प्रथम मंडल है। जयपुर मंडल द्वारा रखरखाव किए जाने वाले केंद्रीय रेलवे अस्पताल, उत्तर पश्चिम रेलवे मुख्यालय भवन, जयपुर जंक्शन स्टेशन भवन को भी इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल द्वारा पूर्व में प्लेटिनम रेटिंग दी गई है।
इस प्रमाण पत्र को प्राप्त करने के लिए जयपुर मंडल द्वारा ऊर्जा संरक्षण के लिए 100 एलईडी लाइट्स का उपयोग, छतों पर सोलर पैनल, ईको फे्रंडली रसायन एवं उर्वरकों का उपयोग, जल संरक्षण के उपकरणों का प्रयोग, जल के निम्तम प्रयोग करने वाले मूत्रालयों, छतों पर ऊष्मा को कम करने वाले पेंट लगाना, भवनों के उपयोगकर्ताओं के लिए हरित शिक्षा व जागरूकता अभियान चलाना था। पौधरोपण को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए।

जीएम आनन्द प्रकाश ने किया पौधरोपण

रेलवे द्वारा अपने हरित पर्यावरण के दायित्व की अनुपालना के लिये समय-समय पर वृक्षारोपण किया जाता है। आनन्द प्रकाश महाप्रबंधकए उत्तर पश्चिम रेलवे ने जगतपुरा स्थित इको पार्क में उत्तर पश्चिम रेलवे के विभागाध्यक्षों तथा अधिकारियों के साथ वृक्षारोपण कर हरित पर्यावरण का संदेश दिया। जीएम आनन्द प्रकाश ने कहा कि पर्यावरण के सरंक्षण के लिए हम सभी को मिलकर कार्य करना चाहिए व पर्यावरण संरक्षण आज सभी का दायित्व बन गया है इस दिशा में रेलवे अनेकों कार्य कर रहा है और हमें व्यक्तिगत रूप से भी इस पर विशेष ध्यान देना चाहिए। हरित पर्यावरण के लिए सभी को पौधे लगाकर उनकी देखभाल करनी चाहिए।
उत्तर पश्चिम रेलवे पर विगत वर्षों में लगभग 5 लाख वृक्षों का वृक्षारोपण किया गया। रेलवे का प्रयास है कि पर्यावरण और ऊर्जा संरक्षण के लिये यथासंभव कार्य किये जाये और पर्यावरण अनूकुल स्त्रोतों का अधिकाधिक उपयोग किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.