ट्विटर पर छाया आरएएस इंटरव्यू

Spread the love

अभ्यर्थियों ने चलाया अभियान
36 हजार ट्वीट कर करवाया टॉप टेंड्र


जयपुर.
आरएएस अभ्यर्थियों का रूका हुआ इंटरव्यू रविवार को ट्विटर पर छाया रहा। यह इंटरव्यू करवाने के लिए अभ्यर्थियों ने अभियान चलाया और 36 हजार ट्वीट कर टॉप टेंड्र करवाया।
तमाम पचड़ों और कोर्ट से गुजरती हुई आरएएस 2018 भर्ती के साक्षात्कार 3 साल बाद अंजाम तक पहुचने वाले थे कि कोरोना की दोहरी मार ने अभ्यर्थियों के करियर को पुन: अंधकार में डाल दिया। गौरतलब है कि सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए आरएएस 2018 सबसे लेट आरएएस भर्ती बन गयी है। कोर्ट केस व सिस्टम की लापरवाहियों का खामियाजा अभ्यर्थियों को समय गंवा कर चुकाना पड़ रहा है। 22 मार्च से आरम्भ हुए साक्षात्कार 7 मई तक चलने थे जो 19 अप्रैल को रोक दिए गए।
आज 30 मई को साक्षात्कार के अभ्यर्थियो ने ट्विटर ट्रेंड में माध्यम से अपनी बात रखी। कई लोगो ने आरएएस अभ्यर्थियों की मुहिम में साथ दिया। रिज्यूम आरएएस 2018 इंटरव्यू हैशटेग के द्वारा करीब 36 हजार ट्वीट्स उनके समर्थन में हुए। अभ्यर्थियों ने ट्विटर पर जल्द बचे हुए साक्षात्कार सम्बन्धी अपनी मांगों को पुरजोर तरीके से रखा। कोरोना के समय मे ऑनलाइन मांग उठाकर अभ्यर्थियों ने अपनी गुहार लगा दी है। आरएएस हैशटेग राज्य ही नही राष्ट्रीय स्तर पर भी ट्रेंड में बना रहा। ऐसे में देखना होगा सरकार युवा आगामी अधिकारीयो की कितनी चिंता करती है।
अभ्यर्थियो का कहना है कि सीए परीक्षा का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है बोर्ड परीक्षाओं के होने पर मंथन जारी है इन परीक्षाओं में लाखों अभ्यर्थी सम्मिलित होंगे। कॉन्स्टेबल, पॉल्युशन बोर्ड आदि परीक्षा के अभ्यर्थियो की प्रक्रियाएं आगे बढ़ रही है जिनमे भी संख्या अच्छी खासी है। अन्य राज्यों की लोकसेवा आयोगों में भर्ती प्रक्रियाएं आगे बढऩी शुरू हो चुकी है। राजस्थान में भी केस कम होते जा रहे है। 1 जून से कई छूट मिलने की भी अटकले तेज है।

जल्द शुरू हो साक्षात्कार

ऐसे में आरएएस अभ्यर्थियो की मांग है कि साक्षात्कार जल्द से जल्द शुरू करवाए जाए। साक्षात्कार प्रक्रिया में प्रतिदिन निश्चित संख्या में 2 पारियो में अभ्यर्थी आयोग पहुंचते है। अत: सोशल डिस्टेंसिंग के साथ साक्षात्कार बड़ी चुनौती नही है। अभ्यर्थी ऐसे में सरकार व आयोग की मंशा पर प्रश्न चिन्ह खड़े कर रहे है। अधीनस्थ सेवा बोर्ड भी खुल चुका है व कार्य आरम्भ हो चुके है। ऐसे में आरपीएससी भी आरएएस साक्षात्कार हेतु जल्द प्रक्रिया आरम्भ करे। अभ्यर्थियों का कहना है कि अभी से योजना नहीं बनाई गई तो यह भर्ती और लटक सकती है। आयोग खुलने के बाद भी 2 से 3 सप्ताह साक्षात्कार शुरू करने में लग सकते है।

मिल जाएंगे 1051 नए अधिकारी

कोरोना के समय में यदि आरएएस भर्ती समय पर पूरी होती है तो कोरोना प्रबंधन के लिए राज्य को 1051 नए अधिकारी मिलेंगे। आरएएस, पुलिस, रसद विभाग, महिला बाल विकास, आबकारी, बीडीओ, सहकारिता, वित्त जैसे महत्वपूर्ण विभागों को और बल मिलेगा जो कोरोना मैनेजमेंट व आर्थिक सिस्टम की रीढ़ है। इस समय न सिर्फ करीब 2 हजार 53 साक्षात्कार के अभ्यर्थी बेसब्री से इस भर्ती के पूरे होने का इंतजार कर रहे है बल्कि लाखो प्रयासरत अभ्यर्थी नई आरएएस की बाट देख रहे है। ऐसे में देखना यह है कि सरकार व आयोग वर्षो से लटकती आ रही 2018 भर्ती को कैसे अंजाम तक पहुंचा कर अभ्यर्थियों को राहत देते है।

फैक्ट फाइल

राजस्थान राज्य व अधीनस्थ सेवा परीक्षा 2018
अप्रैल 2018 में विज्ञापन जारी हुआ था।
कुल पद 1014 नॉन टीएसपी, 37 टीएसपी पदों के लिए।
कुल आवेदन 4 लाख 97 हजार 048 थे।
प्रारम्भिक परीक्षा 5-8-2018 को 1454 केंद्रों पर
9 जुलाई 2020 को मुख्य परीक्षा परिणाम में पास 2053 अभ्यर्थी
19 अप्रैल से कोरोना के कारण स्थगित, लगभग आधे साक्षात्कार शेष

Leave a Reply

Your email address will not be published.