करोड़पति बनने के लिए जरूरी है समझदारी भरा निवेश

Spread the love

दुनिया और भारत में प्रसिद्ध हैं कई निवेशक

सुमन शर्मा

जयपुर। इस दुनिया में हर कोई अमीर बनना चाहता है, लेकिन इसके लिए मेहनत के साथ ही सोच समझ से निवेश किए जाने की आवश्यकता रहती है। सोच समझ कर लंबे समय के लिए निवेश किया जाए तो करोड़पति बनना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन इसके लिए लंबे समय के लिए धैर्य रखने की भी जरूरत पड़ती है। अपने देश और दुनिया में इस समय कई निवेशकों की धाक हैं, जिन्होंने लंबे समय के लिए निवेश कर बहुत बड़ी आय प्राप्त की है।

खेलने की उम्र में शेयर बाजार से कमाई

इस समय पूरे विश्व में सर्वश्रेष्ठ निवेशक के रूप में वॉरेन बफेट प्रसिद्ध हैं। वॉरेन बफेट को दुनिया के बेहतरीन निवेशकों में से एक माना जाता है। बफेट का उत्तराधिकारी प्रवासी भारतीय अजीत जैन को माना जा रहा है। निवेश की अपनी समझ के कारण ही बफेट दुनिया के चुनिंदा अमीरों में से एक हंै और उनकी कुल संपत्ति 84 अरब डालर है। बफेट ने मात्र 11 वर्ष की आयु में ही शेयर बाजार में निवेश करना शुरू कर दिया था। बफेट का कहना है कि कभी भी एकल आय पर निर्भर नहीं रहें, दूसरे स्त्रोत भी विकसित करें। बचत करने के बाद जो बचे उसे खर्च करें। हमेशा अधिक समय के लिए निवेश करें।

राधाकिशन दमानी

भारत में डी-मार्ट के संस्थापक राधाकिशन दमानी ने करीब 30 साल पहले छोटी कंपनियों में निवेश कर पैसा कमाया और करोड़पति बन गए। इसके बाद उन्होंने रीटेल कारोबार में अपना हाथ जमाया और सफलता प्राप्त की। यह दमानी की चतुराई ही है कि आज उनकी कंपनी की वैल्यू करीब 1.80 लाख करोड़ रुपए से अधिक है। उनकी कंपनी डी-मार्ट का शेयर बाजार में आईपीओ आने के बाद उनकी संपत्ति करीब दुगुनी हो गई। दमानी हाल ही में मुंबई में 1001 करोड़ रूपए में 5752 वर्गमीटर का आलीशान मकान खरीदकर चर्चा में आए हैं। उनका कहना है कि शेयर बाजार में सोच समझ कर ही निवेश करना चाहिए और हमेशा लंबे समय के लिए निवेश करना चाहिए।

भारत का वॉरेन बफेट राकेश झुनझुनवाला

राकेश झुनझुनवाला भी भारत के प्रसिद्ध निवेशकों में से प्रमुख निवेशक है। भरत झुनझुनवाला ने कई शेयरों में निवेश किया और कई गुना लाभ कमाया है। झुनझुवाला को निवेश की पैनी समझ के कारण भारत का वॉरेन बफेट माना जाता है। उन्होंने कई शेयरों में निवेश कर 60 से 250 प्रतिशत तक का रिटर्न कमाया है। उनकी कुल संपत्ति लगभग 20 हजार करोड़ रूपए है। झुनझुनवाला का जन्म 5 जुलाई 1960 को मुंबई में हुआ। इन्होंने 1985 में शेयर बाजार में अपनी बचत के पैसों से पहली बार निवेश किया तब बीएसई का सूचकांक केवल 150 अंक पर था। झुनझुनवाला ने कई बार नुकसान भी उठाया पर इस नुकसान की भरपाई कर ली। झुनझुनवाला का कहना है कि जीवन में हमेशा गलतियों से सीखना चाहिए और सही समय पर निवेश करना चाहिए।

इनका भी है बड़ा नाम

इन निवेशकों के अलावा डोली खन्ना, विजय केडिया, रामदेव अग्रवाल, आशीष कचौलिया, आशीष धवन, नेमिश शाह आदि भी देश के प्रसिद्ध निवेशक है। यह सभी निवेशक अपने पैसे को सही जगह निवेश कर करोड़ों रूपए कमाने के लिए प्रसिद्ध है। निवेश उतना ही किया जाना चाहिए, जितना नुकसान झेला जा सके। कभी भी अंधाधुंध निवेश एक ही जगह पर और उधार लेकर निवेश नहीं करना चाहिए। शेयर बाजार के अलावा सोना, प्रोपर्टी भी निवेश की अच्छी जगह मानी जाती है।

About newsray24

Check Also

Africa: दस साल बढ़ी अफ्रीका के लोगों की उम्र, अब जाकर 56 साल जी पाएंगे

Spread the love जोहान्सबर्ग (अफ्रीका)। पिछले दस सालों में अफ्रीका महाद्वीप के लोगों की उम्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published.