इस देश में सिखों के लिए भी जरूरी है हेलमेट पहनना

Spread the love

आपने कभी किसी सिख को दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट पहने नहीं देखा होगा, लेकिन एक देश ऐसा भी है, जहां सिखों को हेलमेट पहनना अनिवार्य है। यहां हेलमेट नहीं पहनने पर उनका भी चालान कट सकता है।
दुनिया में भारत सहित ऐसे बहुत से देश हैं, जिनमें सिखों को हेलमेट पहनने से छूट मिली हुई है। इसका कारण यह है कि सिख धर्म में पगड़ी पहनना अनिवार्य है और पगड़ी पहनने के बाद हेलमेट लगाना संभव नहीं है। इसलिए आपने आज तक हमारे देश में किसी सिख को हेलमेट लगाकर दुपहिया वाहन चलाते नहीं देखा।

भारत-पाकिस्तान सहित कई देशों में मिली है छूट

भारत समेत पाकिस्तान, यूनाइटेड किंगडम, अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में सिखों को हेलमेट पहनने से छूट मिली हुई है। हालांकि, सिखों को मिल रही इस छूट को एक देश ने खत्म कर दिया है। आपको बता दें कि जर्मनी की सर्वोच्च अदालत के निर्णय के बाद जर्मनी में सिखों के लिए हेलमेट पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।
गौरतलब है कि जर्मनी में सिखों के हेलमेट पहनने का ये मामला साल 2013 का है, जब जर्मनी के दक्षिण में एक सिख का चालान काटा गया था। इस मामले में एक सिख को बिना हेलमेट लगाए, पगड़ी पहनकर मोटरसाइकिल चलाने की इजाजत नहीं दी गई थी। हेलमेट न पहनने की वजह से उसका चालान तक काट दिया गया था, चालान कटने की वजह से उसने इस फैसले के खिलाफ प्रशासनिक मामलों की सर्वोच्च अदालत में एक अर्जी दाखिल की थी, जहां सिखों के लिए भी हेलमेट पहनना अनिवार्य कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *